कपिल मिश्रा एक बार फिर बने केजरीवाल के लिए मुसीबत
196

एक बार फिर कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है।दिल्ली के सीएम  अरविंद केजरीवाल के सदन में ज्यादातर उपस्थित न रहने को लेकर आम आदमी पार्टी के बागी  विधायक कपिल शर्मा ने दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है।जिसे दिल्ली हाई कोर्ट ने स्वीकार कर लिया  है। दिल्ली हाईकोर्ट में इस मामले की सुनवाई कल यानी मंगलवार को होगी ।

कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि विधानसभा के विशेष सत्र में एक दिन भी केजरीवाल नहीं आए हैं।कपिल ने याचिका में सदन में गैरहाजि़री रहने पर मुख्यमंत्री की सैलरी काटने की मांग की है।उन्होंने कहा कि सदन की पिछले एक साल की 27 बैठकों में से मुख्यमंत्री केजरीवाल सिर्फ 5 बैठकों में ही मौजूद रहे हैं।   

साथ ही कपिल ने ये भी आरोप लगाया कि केजरीवाल ज्यादातर सदन में सिर्फ अपना भाषण देने ही आते हैं। साढ़े तीन साल में एक बार भी सीएम उपस्थित नहीं रहे। उन्होंने कहा कि केजरीवाल मे सदन में आज तक एक भी विधायक के सवाल का स्वंय जवाब नहीं दिया। जल मंत्री होने के बावजूद भी केजरीवाल ने सदन में पानी पर एक जबाव नहीं दिया। पूर्ण राज्य के विशेष सत्र में एक दिन भी केजरीवाल सदन में नही आए। कपिल का दावा है कि देश के इतिहास में पहली बार किसी मुख्यमंत्री के खिलाफ एेसी याचिका दायर की गई है।

News Reporter

Leave a Reply