योग दिवस पर हुआ योग, कथक एवं आधुनिक नृत्य का अद्भुत संगम

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर भारतीय सरकार के विभिन्न इकाइयों एवं संस्थाओं द्वारा विभिनन ए.एस.आई. स्मारकों में योग से सम्बंधित कार्यक्रम कराये जा रहे हैं। इसी के अंतर्गत लखनऊ के रेसिडेन्सी में 21 जून 2021 को प्रातः 7 बजे से 8ः30 बजे तक योग तथा कथक नृत्य पे आधारित प्रस्तुति संगीत नाटक अकादमी, नई दिल्ली के द्वारा लखनऊ के अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त एवं राष्ट्रीय संगीत नाटक अकादमी उस्ताद बिस्मिल्ला खां युवा पुरस्कार अवार्डी पंडित अनुज मिश्रा एवं उनके दल के 15 सदस्यों द्वारा ‘‘महायोगी’’ प्रोडक्शन प्रस्तुत किया गया।

जिसमें योग, कथक एवं आधुनिक नृत्य का मिश्रण किया गया। यह अपनी तरह की पहली और अनोखी प्रस्तुति लखनऊ में हुई। प्रोडक्शन का निर्देशन, संकल्पना एवं अवधारणा पंडित अनुज मिश्रा ने किया व संस्था की आर्टिस्टिक निदेशक नेहा मिश्रा का सहयोग रहा। इसके अलावा आधुनिक नृत्य की प्रस्तुतियों की कोरियोग्राफी आकाश राजपूत जो कि स्काई हाॅप कंपनी के निदेशक हैं ने किया।
कार्यक्रम रूपरेखा शिव वन्दना – आनन्द ताण्डव (कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं भुजगेन्द्रहारम), और रौद्र ताण्डव (जटाटवी गलज्जलप्रवाह पावितस्थले गलेऽव लम्ब्यलम्बितां भुजंगतुंग मालिकाम्‌ा)

  1. ध्रुवपद – प्राचीन भारतीय गायन शैली धु्रवपद में गुंडेचा भाईयों द्वारा गाया शिव वन्दना (शिव-शिव-शिव)
  2. परम्परागत कथक – लखनऊ घराने का परम्परागत कथक में खास बंदिशें, तेज पद संचालन, तेज चक्कर
  3. कैलाश खेर द्वारा गाया ‘‘आदियोगी’’ पर कथक व कन्टेम्परेरी नृत्य शैली का समावेश करते हुये योग के विभिन्न आसनों का अद्भुत प्रदर्शन ।

कलाकार: कथक
प्रीतम दास, मानसी मिश्रा, आरती बघेल, सिद्धि अग्रवाल, अंकिता मिश्रा, प्रेरणा विश्वकर्मा, सीमा पाल, श्रेया, रूद्राक्षी व वंशिका शर्मा।
कलाकार: कंटम्परेरी
दिव्या उपाध्याय, अभिषेक राजपूत, काजल शर्मा, अनुभव श्रीवास्तव

News Reporter

Leave a Reply