कोरोना के खिलाफ जंग में एयर कंडिशनिंग सोसाइटी लोगों को जागरूक में जुटी

नई दिल्ली – देश में कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण को देखते हुए एयर कंडिशनिंग इंडस्ट्री भी देशहित में लोगों को जागरूक करने में जुट गई है। इंडियन सोसाइटी आॅफ हीटिंग,रेफ्रिजरेटिंग एंड एयर कंडिशनिंग इंजीनियर्स (इसरे) के दिल्ली चैप्टर के अध्यक्ष के डी सिंह ने बताया कि इसरे एक सोसाइटी है जो एयर कंडिशनिंग को लेकर गाइडलाइन बनाती है और उनका उद्देश्य कोविड-19 के बुरे दौर में जनता को जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के बीच घरों और आॅफिस में एसी के उपयोग को लेकर सोसाइटी के इंजीनियर्स के द्वारा अध्ययन करके गाइडलाइन तैयार किया गया है जिसे केंद्र सरकार और मेट्रो के साथ साझा भी किया गया है । केंद्र सरकार ने सोसाइटी के गाइडलाइन के हिसाब से एसी के उपयोग को लेकर एडवायजरी भी जारी किया है। उन्होंने ये जानकारी इसरे दिल्ली चैप्टर के नई कार्यकारिणी के गठन के दौरान दी। नई कार्यकारिणी में अध्यक्ष के डी सिंह, उपाध्यक्ष आशीष गुप्ता, सचिव प्रियांक गर्ग और कोषाध्यक्ष वरूण जैन को सोसाइटी की अहम जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं।

इंडियन सोसाइटी आॅफ हीटिंग,रेफ्रिजरेटिंग एंड एयर कंडिशनिंग इंजीनियर्स (इसरे) के दिल्ली चैप्टर के अध्यक्ष के डी सिंह ने कहा कि 22 अप्रैल को अर्थ-डे मनाया जाएगा और उनके इंजीनियर्स ने देश को कार्बन न्यूट्रल इंडिया बनाने का संकल्प लिया है। इस बार का थीम है ‘‘बिल्डिंग ए कार्बन न्यूट्ल इंडिया।” उन्होंने कहा कि देश में एयर कंडिशनिंग मार्केट आज 82 सौ मीलियन डाॅलर का है जो 2030 तक 35 हजार मीलियन डाॅलर का हो जाएगा । इससे कार्बन डाइआॅक्साइड या ग्रीन हाउस गैसों का उर्त्सजन ज्यादा होगा, जिससे ग्लोबल वार्मिंग का खतरा ज्यादा बढ़ता जाएगा। ऐसे में उनकी टीम पड़ोसी देश भूटान की तर्ज पर ग्रीन क्षेत्र को बढ़ाने के लिए वृक्ष रोपण के लिए जागरूकता अभियान चलाएगी।

सोसाइटी के उपाध्यक्ष आशीष गुप्ता ने कहा कि इसरे दिल्ली दक्षिण एमसीडी के साथ एमओयू साइन करने जा रही है जिसमें दक्षिणी दिल्ली के खराब लाइटों के लिए 10 लाख रूपये का सोलर उपकरण दिया जाएगा। स्ट्रीट लाइट के लिए सोलर लाइटिंग के इस्तेमाल से ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा मिलेगा। कार्यकारिणी के बैठक में इसरे दिल्ली चैप्टर की नई टीम ने कोविड वायरस के लिए तैयार वैक्सीन के सुरक्षित रख रखाव के लिए दिल्ली के सरकारी अस्पताल को 500 लीटर का रेफ्रीजेरेटर डोनेट करने का फैसला लिया जो -80 डिग्री सेल्सियस पर काम करेगी । इस मौके पर साउथ दिल्ली मुनिसिपल काॅरपोरेशन के एजुकेशन कमिटी के डिप्टी चेयरपर्सन राधिका फोगाट उपस्थित थी। उन्होंने सोसाइटी के कार्यो की तारीफ की और इसरे दिल्ली चैप्टर के नई टीम को बधाई दी। सोसाइटी के नवनियुक्त पदाधिकारियों ने कहा कि उनके इंजीनियर्स एयरकंडीशन के नए आयामों पर रिसर्च करते रहेंगे ताकि मेक इन इंडिया प्रोग्राम को मजबूती मिल सके।

News Reporter

Leave a Reply