अमेठी में चोरों के हौसले बुलंद, पौराणिक स्थल को बनाया निशाना

रिपोर्ट- कृष्ण कुमार

अमेठी में चोरों के हौसले इतने बुलंद हैं कि आये दिन चोरी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। अभी तक चोरों के द्वारा आम लोगों के घरों और सम्पत्ति को निशाना बनाया जा रहा था। अब यह चोर धार्मिक और पौराणिक स्थलों को भी नहीं छोड़ रहे हैं इसी के क्रम में अमेठी जनपद के संग्रामपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत टीकरमाफी चौकी से चंद कदम दूरी पर स्थित बहुत ही पुराने पौराणिक स्थल स्वामी परमहंस आश्रम टीकरमाफी में अभी 10 दिनों पहले अर्थात पिछले 9 जनवरी की रात्रि सुबह 4:00 बजे के करीब गौशाला से एक अच्छी गाय चोर खोल ले गए जिसकी सूचना पुलिस को दी गई लेकिन पुलिस ने भी कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई।

जिसके परिणाम स्वरूप आज रात्रि लगभग 1:00 बजे चोरों ने मंदिर परिसर में चोरी की बड़ी वारदात को अंजाम दे डाला जिसमें लगभग स्वामी परमहंस की चरण पादुका जो चांदी की बनी हुई थी. इसी के साथ चांदी के लगभग 25 सिक्के और ₹30000 नगद सहित तमाम सामान जिसकी कुल कीमत लगभग 3 लाख रुपए पर हाथ साफ किया है जिसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई फिलहाल मौके पर पुलिस के क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर ने पहुंचकर जायजा लिया और महंत की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत करते हुए जांच शुरू कर दी।

आश्रम के सेवक ने बताया कि पुलिस की बड़ी लापरवाही के चलते इस घटना को अंजाम दिया गया है क्योंकि इसके पहले की घटना पर पुलिस ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया जिसके परिणाम स्वरूप आज यह घटना घटित हुई है। इस मामले में पुलिस क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर ने बताया कि घटना की सूचना पर पुलिस के उच्चाधिकारियों के द्वारा मौके का निरीक्षण कर लिया गया है सर्विलांस तथा एसओजी की टीम सक्रिय कर दी गई है शीघ्र ही घटना का अनावरण किया जाएगा।

Leave a Reply