जन सुनवाई में प्रभारी जिलाधिकारी हसांदत्त पांडे ने फरियादियों की सुनी समस्याऐं
143
सन्तोषसिंह नेगी / चमोली में  सोमवार को जिला कार्यालय सभागार में आयोजित जन सुनवाई में प्रभारी जिलाधिकारी हसांदत्त पांडे ने फरियादियों की समस्याऐं सुनी। जिले के विभिन्न क्षेत्रों से जनता दरवार में पहुॅचे फरियादियों ने सड़क, शिक्षा, पेयजल, मनरेगा आदि से जुड़ी 07 शिकायतें दर्ज कराई। जिसमें से अधिकांश शिकायतों का प्रभारी जिलाधिकारी ने मौके पर ही निस्तारण कर शेष समस्याओं का शीघ्र निस्तारण के निर्देश संबधित अधिकारियों को दिये। जन सुनवाई के दौरान मुख्यमंत्री एप तथा समाधान पोर्टल पर दर्ज शिकायतों के साथ-साथ बहुउद्देशीय शिविर व जिला शिकायत प्रकोष्ठ में दर्ज शिकायतों का भी तत्वरित निस्तारण करने के निर्देश दिये गये।
जन सुनवाई में काण्डई निवासी राजपाल कन्याल ने थिरपाक-काण्डई मोटर मार्ग के निर्माण से किलोमीटर 10 व 11 के समीप निजि नाप भूमि का मुआवजा पुरानी दरों में दिये जाने की शिकायत पर डीएम ने अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को मुआवजा वितरण की आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। वही उडामांडा-रौता मोटर मार्ग निर्माण के 10 वर्ष के बाद भी पीएमजीएवाई के द्वारा मुआवजा न दिये जाने की शिकायत पर डीएम ने पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता को शीघ्र मुआवजा वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। खैनुरी निवासी नारायण सिंह पवार की खैनुरी मोटर मार्ग पर पोस्ता निर्माण न से बार-बार कृषि भूमि को हो रहे नुकसान की शिकायत पर ईई पीएमजीएसवाई को तत्काल आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। कमेडा ग्राम प्रधान कमला देवी ने विगत देवीय आपदा में क्षतिग्रस्त कमेडा तल्ला पेयजल योजना के पुर्ननिर्माण न किये जाने की शिकायत पर डीएम ने कर्णप्रयाग जल संस्थान के अधिशासी अभियंता को आंगणन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। कोठियालगांव निवासी गोविन्द सिंह की भैंसवाड तोक में उनकी निजि नाप भूमि पर टूटे हुए तुन के वृक्ष पर किसी अन्य व्यक्ति द्वारा अपना बताये जाने से हो रहे विवाद की शिकायत पर एसडीएम चमोली को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जन सुनवाई में प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क निर्माण से जल संस्थान, लघु सिंचाई या अन्य किसी भी विभाग की परिसम्मपत्तियों के नुकसान/क्षतिग्रस्त होने पर संबधित विभाग क्षतिग्रस्त परिसम्पत्ति का आंगणन सड़क निर्माणदायी संस्था को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। इस दौरान सीएम एप, समाधान पोर्टल तथा जिला प्रकोष्ठ पर दर्ज शिकायतों का भी त्वरित निस्तारण के निर्देश संबधित विभागीय अधिकारियों को दिये गये।
जनता दरवार में सीएमओ डा. तृप्ती बहुगुणा, डीडीओ एसके राॅय, तहसीलदार सोहन सिंह रांगड,, सीएचओ नरेन्द्र यादव, जिला समाज कल्याण अधिकारी सुरेन्द्र लाल, जिला पर्यटन विकास अधिकारी बृजेन्द्र पांडेय सहित सड़क, शिक्षा, पेयजल, कृषि, उद्योग, पशुपालन, रेशम आदि विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply