सिखों के पवित्र तीर्थ श्री हेमकुण्ड साहिब के कपाट खुले

संतोष नेगी/ सिखों के पवित्र तीर्थ श्री हेमकुण्ड साहिब एवं लक्ष्मण लोकपाल के कपाट शुक्रवार को सादगी के साथ आम श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए। कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष पहले दिन 127 श्रद्धालुओं ने हेमकुण्ड साहिब पवित्र धाम में मत्था टेका। सुहावने मौसम के बीच श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर में आस्था की डुबकी भी लगाई। धार्मिक श्रद्धा के साथ लोकपाल और हेमकुण्ड साहिब के कपाट शुक्रवार को सुबह 10 बजे श्रद्धालुओं के लिए खुले।

हेमकुण्ड साहिब के लिए प्रातः 3 बजे घांघरिया से श्रद्धालुओं की पहली संगत श्री लोकपाल हेमकुण्ड साहिब के आस्था पथ के लिए रवाना हुई। लोकपाल महाराज और गुरू महाराज के जयकारे लगाते हुए पांच किलोमीटर की पैदल चढाई के बाद धाम पहुंचा। पहले दिन लगभग 127 श्रद्धालुओं ने पवित्र दंडी पुष्करणी सरोवर में आस्था की डुबकी लगाई।

धाम के कपाट खुलने के बाद मुख्य ग्रंथी ने इस वर्ष की पहली गुरू अरदास पढी। अरदास के बाद सुखमणि साहिब का पाठ हुआ। जिसके साथ ही हेमकुण्ड साहिब यात्रा आम श्रद्धालुओं के लिए शुरू हो गई है। गुरूद्वारा प्रबंधक सेवा सिंह ने कहा कि कोविड 19 के नियमों को ध्यान में रखते हुए ही इस वर्ष यात्रा का संचालन किया जा रहा है।

Leave a Reply