सिंघु बॉर्डर पर फ्री WiFi हॉटस्पॉट लगाने की सेवा शुरू की गई

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पंजाब सह-प्रभारी राघव चड्ढ़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के आज ऐलान किया कि सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसान भाइयों की सुविधा के लिए WiFi हॉटस्पॉट लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के विधायक और नेता सिंघु बॉर्डर का दौरा करते रहते हैं और किसानों से मुलाकात करते रहते हैं। कई किसानों ने सिंघु बॉर्डर पर कमजोर नेटवर्क, खराब कनेक्टिविटी की शिकायत आम आदमी पार्टी से की थी।

राघव चड्ढ़ा ने कहा कि, “अरविंद केजरीवाल ने सिंघु बॉर्डर पर लंगर से कंबल और पानी से शौचालय तक की सेवा दी है। अब अरविंद केजरीवाल ने एक और महत्वपूर्ण सेवा की शुरुआत की है और वो है फ्री WiFi की सेवा ताकि हमारे किसान भाई अपने प्रियजनों से बात कर पाएं। किसानों की मांग हम तक पहुंचाई गई कि सिंघु बॉर्डर पर कमजोर नेटवर्क की वजह से किसान अपने घर-परिवार के लोगों से बात नहीं कर पा रहे हैं।”

चड्ढ़ा ने कहा कि, “जैसे ही ये शिकायत मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को मिली कि हमारे किसान भाई कमजोर नेटवर्क की वजह से अपने घर-परिवार के लोगों को देख नहीं पा रहे हैं, वीडियो कॉल नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने तुरंत इस पर एक्शन लिया और फिर उनके निर्देशानुसार इस दिशा में काम शुरू किया गया। कड़ाके की इस ठंड में आंदोलन कर रहे हमारे किसान भाइयों को जितने भी WiFi हॉटस्पॉट की जरूरत पड़ेगी उतने हॉटस्पॉट सिंघु बॉर्डर पर लगाए जाएंगे।”

अच्छे नेटवर्क की जरूरत पर बात करते हुए राघव चड्ढ़ा ने कहा कि, “रोटी, कपड़ा और मकान, जीवन के लिए ये 3 सबसे जरूरी चीजें होती हैं लेकिन आज की इस दुनिया में एक और चीज इसमें जुड़ गई है और वो है इंटरनेट। इस जरूरत को पूरा करने के लिए आम आदमी पार्टी ने फैसला किया है कि सिंघु बॉर्डर पर जहां जहां हमारे किसान भाई मांग करेंगे हम वहां फ्री WiFi हॉटस्पॉट लगाने की सेवा देंगे ताकि किसान भाई अपने परिवार के लोगों से बात कर पाएं।”

राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि, “घर से दूर चाहे किसान हो या जवान, उसकी सबसे बड़ी ताकत होती है उसका परिवार। अरविंद केजरीवाल जी इस ताकत को समझते हैं, आम आदमी पार्टी इस ताकत को समझती है। किसानों को उनकी बूढ़ी मां, उनके बच्चे और पत्नियां वीडियो कॉल पर देख सकें, उनका हाल जान सकें, इसलिए हमने सिंघु बॉर्डर पर WiFi हॉटस्पॉट लगाने का फैसला किया गया है।”

राघव चड्ढ़ा ने आगे कहा कि, “किसानों को जितना कष्ट, जितनी असुविधा और पीड़ा झेलनी पड़ रही है उस पीड़ा को कम करने के लिए हमारा ये छोटा सा प्रयास है ताकि उन्हें थोड़ा आराम दिया जा सके। अगर हम ये करने में सफल हुए तो हमारे लिए ये बड़ी सफलता होगी।”

चड्ढ़ा ने कहा कि, “करीब 1 महीने से हमारे किसान भाई इस कड़ाके की ठंड में आंदोलन कर रहे हैं। उनके परिवारों को भी उनकी चिंता होती है और वो भी अपने परिवार के लोगों से बात करना चाहते हैं लेकिन कमजोर नेटवर्क की वजह से वो अपने प्रियजनों से बात नहीं कर पा रहे हैं, अपने बच्चों को देख नहीं पा रहे हैं। हम अपने किसान भाइयों के लिए इतना तो कर ही सकते हैं कि वो अपने घर-परिवार के लोगों से वीडियो कॉल पर बात कर सकें। खून-पसीने की मेहनत से हमारी थाली तक अन्न पहुंचाने वाले किसानों को उनकी बूढ़ी मां, उनके बच्चे और पत्नियां वीडियो कॉल पर देख सकें, उनका हाल जान सकें, इसलिए हमने सिंघु बॉर्डर पर WiFi हॉटस्पॉट लगाने का फैसला किया। हमें उम्मीद है की WiFi हॉटस्पॉट लग जाने से किसान भाई दोबारा अपने परिवार वालों से बिना किसी रुकावट के बात कर पाएंगे।”

WiFi हॉटस्पॉट की जरूरत और महत्व पर बात करते हुए राघव चड्ढ़ा ने कहा कि, “इस डिजिटल दौर में अच्छे नेटवर्क और इंटरनेट कनेक्शन इसलिए भी जरूरी हैं ताकि हमारे किसान भाई अपने ऊपर लग रहे तमाम झूठे इल्जामों का पर्दाफाश भी कर सकें। मुझे लगता है कि अपने किसान भाइयों के लिए हम इतना तो कर ही सकते हैं। हमारी बस इतनी ही कोशिश है कि घर से मीलों दूर रह कर भी किसान अपने आप को परिवार के करीब ही महसूस करें।”

राघव चड्ढ़ा ने आगे कहा कि, “हमारे देश का किसान हमारा अन्नदाता है, हमारे अन्नदाता के इस आंदोलन में हम उनकी पीड़ा को बस थोड़ा कम करने की कोशिश कर रहे हैं और इसी दिशा में अरविंद केजरीवाल ने आज ये फ्री WiFi हॉटस्पॉट लगाने का फैसला किया है।”

Leave a Reply