; शव सड़क पर रख जाम लगाने को लेकर परिजनों की पुलिस से झड़प
1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
शव सड़क पर रख जाम लगाने को लेकर परिजनों की पुलिस से झड़प

लखीमपुर।मितौली थाना क्षेत्र के कचियानी गाँव के पेट्रोल पंप के पास दिनदहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या मामले में सोमवार शाम को शव घर पहुंचते ही परिजनों और पुलिस के बीच में झड़प हो गई। परिजन षव को सड़क पर रखकर जाम लगाना चाहते थे। पीड़ित पुलिस की लापरवाही और आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से नाराज थे। रोड जाम को लेकर परिजनों से पुलिस की कई बार झड़प हो गयी। आक्रोशित परिजनों को दिन भर पुलिस समझाने में जुटी रही। शव का अंतिम संस्कार कराने में पुलिस के हाथ पांव फूल गए।

सोमवार को थाना क्षेत्र के कचियानी गाँव के निकट एसडीएम आवास के समीप दाढ़ी बनवाकर वापस घर जा रहे उदन की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। मृतक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों प्रधान ,हरिवंश, गजोधर एव एक अन्य के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया था। लेकिन घटना से खबर लिखे जाने तक करीब 30 घंटो के बाद भी पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर पाई। गोली कांड को लेकर पुलिस सुबह से ही अलर्ट थी। शव पहुंचने से पहले पुलिस और परिजनों की कई बार झड़प हो गयी। शव के अंतिम संस्कार में एसडीएम विनीत उपाध्याय सीओ मितौली सुबोध जायसवाल सीओ मोहम्मदी अरविंद कुमार सहित जनपद के आधा दर्जन से अधिक थानों की पुलिस फ़ोर्स मौजूद रही।

भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच हुआ उदन का अंतिम संस्कार।
मितौली। उदन हत्या काण्ड को लेकर पुलिस की गाड़ियां जनपद के थाना क्षेत्रों से सुबह से ही आना शुरू हो गयी थी। परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी न होने के चलते रोड जाम की चेतावनी दी थी। जिसको लेकर प्रशानिक अमला सुबह से परिजनों को समझाता बुझाता नजर आया। शव पहुंचने से पहले कई बार सड़क के किनारे से परिजनों को समझा बुझाकर भेजा गया काफी जद्दोजहद के बाद देर शाम जल्दी गिरफ्तारी की मांग मुकदमा में एससीएसटी सहित अन्य धाराओं को बढ़ाने के बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

सड़क पर जाम करने को लेकर शव वाहन के आगे लेट गए परिजन
मितौली। उदन का शव पोस्टमार्टम के बाद शाम को घर पहुंचने से पहले पुलिस ने जबरन शव वाहन को घर पहुंचाने को लेकर पिकअप के आगे महिलाएं और पुरूष लेट गए जिनको हटाने में पुलिस के हाथ पाव फूल गए। शव वाहन काफी मसक्कत के बाद घर पहुंचाया गया। शव पहुँचते ही घर मे चीख पुकार मच गई परिजनों का रो रो बुरा हाल है। इस दौरान कई बार मृतक की पत्नी व भतीजा बेहोश हो गया।

30 घण्टे से अधिक बीत जाने के बाद भी नहीं हो सकी गिरफ्तारी
। उदन हत्याकांड सोमवार को सुबह सवा दस बजे के आसपास हुआ था। घटना स्थल का एसपी  गणेश प्रसाद साहा ने भी निरीक्षण कर जल्द
गिरफ्तार की बात कही थी लेकिन पुलिस की तीन टीमों को 30 घंटे से अधिक समय हो गया अभी सफलता नहीं मिली।

News Reporter
error: Content is protected !!