88 लाख रूपये की स्मैक की बड़ी खेप के साथ तस्कर गिरफ्तार
91

महेश चंद्र गुप्ता बहराइच। उत्तर प्रदेश में जब से योगी की सरकार हुई है तब से उत्तर प्रदेश में बदमाशों का धुआंधार एनकाउंटर हुए कई बदमाश पुलिस के समक्ष अपने आपको समर्पण कर दिया। वहीं अगर तस्करों की बात की जाए तो कई बड़े तस्करों की गिरफ्तारियों भी हुई। मगर बहराइच जिले का रुपईडीहा नेपाल बॉर्डर एक तस्करों के लिए ऐसा मुफीद ठिकाना था जिसपे नज़र बहराइच पुलिस की कभी नही गयी। मगर बीते दिनों जबसे बहराइच जिले के कप्तान गौरव ग्रोवर ने रुपईडीहा थाना कोतवाली का प्रभार प्रभारी निरीक्षक मधुप नाथ मिश्र को सौंपी उसी दिन से तस्करों की उल्टी गिन्ती शुरू हो गई और रुपईडीहा पुलिस ने बॉर्डर पर फैले तस्करो के विरुद्ध आपेरशन क्लीन नामक अभियान छेड दिया। आलम यह रहा कि कई बड़े तस्कर जो निवर्तमान थानेदारों की गोद मे बैठ कर अपने धन्धे का संचालन करते थे उनके कई गुर्गों को चहर दिवारी तक पहुंचा दिया और कई तो बॉर्डर छोड़ कर योगी के इस पुलिसिया खौंप से भाग खड़े हुए।

मगर बादशाह नामक एक हीरोइन तस्कर पर शायद पुलिस का कोई खौंप नही था। कभी कदार थाने के सिपाही इसे पकड़ कर लाये भी तो यहाँ तैनात रहे इंस्पेक्टरों ने चंद सिक्कों की खातिर इसे बेइज्जत बरी कर दिया। इसी वजह से इसके हौंसले बुलंद रहे। सरकारें आती गईं और जाती गई मगर इसका धंधा बुलंदियों की ओर बढ़ता रहा। बादशाह ने अपने एक गुर्गे को इस काम के लिए काठमांडू में बैठा दिया। उसका नाम था मनोज थापा मनोज थापा ही इसका ऐसा आदमी है जो इसके द्वारा नेपाल में भेजा गया हीरोइन,अफीम व स्मैक की खेप को चीन तक भेजता था। मगर रुपईडीहा कोतवाल मधुप नाथ मिश्र ने इसे मंगलवार की दोपहर करीब 02 बजे 88 लाख रूपये की स्मैक की बड़ी खेप के साथ नेपाल जाते वक्त गिरफ्तार कर लिया। इसके पकड़े जाने से स्मैक तस्करो की जैसे कमर ही टूट गई।
रुपईडीहा पुलिस अब बादशाह के हर गुर्गों की तलाश कर रही है । इसके लिए कोतवाल मधुप नाथ मिश्र ने ऑपरेशन धर पकड़ शुरू कर दिया है। बहोत जल्द ही बादशाह के गुर्गे सलाखों के पीछे नज़र आएंगे।

News Reporter

Leave a Reply