दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन में पब्लिसिटी पर खर्च किए  151.71 करोड़

कांग्रेस कार्यकर्ता परवेज आलम ने आर.टी.आई. के जरिए प्राप्त जानकारी में बताया गया है कि पिछले 5 महीने में दिल्ली सरकार पे पब्लिसिटी पर 151.71 करोड़ रुपये खर्च किए है। उन्होंने कहा कि प्रचार में खर्च की गई राशि में से कोविड ड्यूटी पर मारे गए सफाई कर्मचारियों के परिवारों को मुआवजा देने के लिए उपयोग किया जा सकता था, जिससे मृतकों के परिवारों को बड़ी राहत मिलती।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और सफाई कर्मचारी यूनियनां के कार्यकर्ताओं ने निगम सफाई कर्मचारियों के हितों के लिए चलाए जा रहे न्याय मार्च के तहत आज शाहदरा साउथ जोन, नियर कड़कड़डूमा कोर्ट, एमसीडी कार्यालय पर कोविड-ड्यूटी पर रहते हुए कोविड-19 महामारी से मरने वाले सभी सफाईकर्मियों को 1 करोड़ रुपये का मुआवजा और कोरोना योद्धा सम्मान देने, निगम कर्मचारियों को चिकित्सा कवर और अन्य मांगे को लेकर धरना दिया। 1 करोड़ रुपये की घोषणा आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने कोरोना यौद्धाओं के लिए की थी, जिसे कोविड ड्यूटी के दौरान मारे गए सफाई कर्मचारियां के परिवारों को भी दिया जाना चाहिए।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता और सफाई कर्मचारी यूनियन कार्यकर्ता दिल्ली नगर निगम और दिल्ली सरकार पर दवाब बनाने के लिए  सभी निगम जोन कार्यालयों पर धरना देंगे ताकि सफाई कर्मचारियों को समय पर वेतन एवं भत्ते मिल सकें।

धरने में चौ0 अनिल कुमार के अलावा प्रदेश उपाध्यक्ष श्री जय किशन, पूर्वी दिल्ली नगर निगम में कांग्रेस नेता कु0 रिंकू, पूर्व विधायक अमरीश गौतम, चरण सिंह कंडेरा और वीर सिंह धींगान, श्री संदीप गोस्वामी, जिला अध्यक्ष गुरचरण सिंह राजू और दिनेश कुमार एडवोकेट, सफाई कर्मचारी यूनियन नेता जय भगवान चरण, जयपाल, ब्रहम ढीकीया, राजेन्द्र मेवाती, मोहन पहलवान और राजेश वेद, पूर्व निगम पार्षद नीतू वर्मा सोईन, अमृता धवन, वरयाम कौर, ईश्वर सिंह बागड़ी और रमेश पंडित मौजूद थे।

Leave a Reply