पेड़ से लटका मिला मां-बेटी का शव, छेड़खानी से तंग आकर की आत्महत्या

गोंडा में छेड़छाड़ से तंग आकर एक महिला व उसकी विवाहिता बेटी ने खुदकुशी कर ली है। आरोप है कि गांव का ही एक युवक महिला की बेटी को लगातार परेशान कर रहा था और उसका शारीरिक शोषण करने की कोशिश कर रहा था। इस प्रताड़ना से तंग आकर महिला ने बेटी समेत खुदकुशी कर ली। मां-बेटी का शव गांव के बाहर पेंड से लटकता मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को नीचे उतारा और पंचनामा कराकर उन्हें पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पूरा मामला जिले के तरबगंज थाना क्षेत्र के बेलसर गांव का है जहां पीड़ित पप्पू पासवान अपने परिवार के साथ रहता है। पप्पू पेशे से ड्राइवर है और अक्सर रात में घर लौटता है। पप्पू ने बताया कि उसके गांव का ही रहने वाला सत्यम नाम का युवक पिछले कई महीने से उसकी बेटी से छेड़खानी कर रहा था और उसे प्रताड़ित कर रहा था। इसी मामले को लेकर एक बार मारपीट भी हुई। उस समय उसने थाने पर शिकायत की थी लेकिन पुलिस ने दोनो पक्षों के बीच सुलह समझौता करा दिया था। बेटी को बचाने के लिए उसने उसकी शादी भी कर दी थी लेकिन आरोपी सत्यम उसका पीछा नहीं छोड़ रहा था। दो दिन पहले सत्यम ने उसकी बेटी से छेड़खानी करते हुए उसे धमकाया था और फिर आरोपी ने उसके बेटी की फोटो उसके ससुराल वालों के भेजा था जिससे उसकी बेटी परेशान थी। इस प्रताड़ना से परेशान मां बेटी रात में घर से निकली थी और सुबह उनका शव गांव के बाहर पेंड से लटकता मिला है। वहीं पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि तरबगंज क्षेत्र में मां बेटी का शव मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची है। घटनास्थल का निरीक्षण किया गया है। परिजनों ने गांव के ही एक युवक पर उसकी बेटी को परेशान करने का आरोप लगाया है। उनकी तहरीर पर अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है और आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ प्रतलित है। आगे जो भी विधिक कार्रवाई है वह सुनिश्चित कराई जायेगी।

Leave a Reply