चण्डीगढ और राजस्थान से 233 लोग पहुंचे चमोली

संतोष नेगी/चमोली/ लाॅकडाउन के कारण बाहरी राज्यों में फंसे लोगों की घर वापसी जारी है। मंगलवार को चण्डीगढ एवं राजस्थान से लगभग 233 लोग चमोली पहुॅच रहे है। इनमें से चार बसें गौचर पहुॅच चुकी है और देर रात्रि तक सभी लोगों के गौचर पहुॅचने की उम्मीद है। इन सभी लोगों को देहरादून और हरिद्वार से उत्तराखण्ड परिवहन निगम की बसों से चमोली भेजा गया है। इनमें चण्डीगढ से 220 तथा राजस्थान के 13 लोग शामिल है।

भारत सरकार द्वारा चण्डीगढ और राजस्थान को रेड जोन में रखा गया है और ये दोनों राज्य हाई रिस्क एरिया में भी शामिल है। इसको देखते हुए जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने भारत सरकार द्वारा चिन्हित रेड जोन से आने वाले सभी लोगों को अनिवार्य तौर पर फेसलिटी क्वारेन्टाइन करने के निर्देश दिए है। कहा कि स्वास्थ्य परीक्षण के बाद केवल गम्भीर बीमारियों से ग्रसित लोगों को ही मेडिकल टीम होम क्वारेन्टीन में रखने की छूट दे सकती है। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य परीक्षण के साथ साथ सभी लोगों का पूरा रिकार्ड भी रखने तथा गौचर में भोजन खिलाने के बाद ही फेसलिटी क्वारेन्टाइन में भेजने के निर्देश दिए है। बताया कि भराडीसैंण आवासीय परिसर को फेसलिटी क्वारेन्टीन के लिए अधिग्रहित किया गया है। यहाॅ पर फेसलिटी क्वारेन्टाइन में रहने वाले लोगों के लिए भोजन एवं आवास की समुचित व्यवस्थाएं भी की गई है।

Leave a Reply