कांग्रेस की बैठक में,,केजरीवाल-बीजेपी का सच,जानना आपका हक,,पर गहन चर्चा
281

नई दिल्ली/दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि आज हमने पूर्व सांसदों, विधायकों, निगम पार्षदों, जिला व ब्लॉक अध्यक्षों तथा जनरल बॉडी के सदस्यों की बैठक की गई जिसमें “केजरीवाल-बीजेपी का सच, जानना आपका हक” नाम की पम्फलेट पर चर्चा की गई। पम्फलेट में यह विस्तार पूर्वक बताया गया है कि किस प्रकार भाजपा और आम आदमी पार्टी अपने किए गए चुनावी वादों में असफल रहे है और किस प्रकार कांग्रेस की दिल्ली सरकार ने अपने 15 वर्ष के कार्यकाल में दिल्ली के विकास के लिए कार्य किए थे।

माकन ने कहा कि यह पम्फलेट दिल्ली के प्रत्येक बूथ के अर्न्तगत आने वाले 100 घरों में बांटी जायेगी तथा दिल्ली के तकरीबन 13 लाख घरों को कवर किया जाऐगा तथा लोगों को भाजपा और आप दोनों पार्टियों की असफलताओं के बारे मे भी बताया जाऐगा।

बैठक को संबोधित करते हुए माकन ने कहा कि इस पम्फलेट को हमने “ सच क्या है? मोदी के वादे निकले जुमले, केजरीवाल भी नाकाम , कांग्रेस ने किया है काम, सच जानना आपका हक-विज्ञापन व प्रचार का खेल, मोदी-केजरीवाल में मेल“ आदि भागों में बांटा गया है।

अध्यक्ष माकन ने कहा कि शुरूआत से हम कह रहे है कि धरने के ड्रामे की कहानी 20 फरवरी 2018 को लिखी गई थी जिस समय दिल्ली के मुख्य सचिव को मुख्य मंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल के घर पर बुलाकर आम आदमी पार्टी के विधायकों को पीटा गया था। यह जानते हुऐ कि इसके क्या परिणाम होंगे और क्या प्रतिक्रिया होगी।माकन ने कहा कि इसी कड़ी में केजरीवाल ने 3 दिन का दिल्ली विधान सभा का सत्र भी बुला लिया जिसमें दिल्ली की शक्तियों के बारे में चर्चा की गई।माकन ने कहा कि केजरीवाल का उपराज्यपाल के घर पर धरना उपराज्यपाल की मिलीभगत से किया गया था क्योंकि धरने का ड्रामा दोनों भाजपा व आम आदमी पार्टी के लिय फायदेमंद है।

कांग्रेस दिल्ली के अध्यक्ष माकन ने कहा कि यह धरना बीजेपी के लिए इसलिए फायदे की चीज थी क्योंकि भाजपा शासित निगम अपने किए गए वायदों पर खरी नहीं उतरी। दिल्ली में जगह-जगह गन्दगी के ढे़र है, वृद्धों, विधवाओं तथा दिवयांगों को पेंशन नहीं है, सिलिंग और तोड़-फोड़ के कारण दिल्लीवासी परेशान है, सफाई कर्मचारियों को समय पर वेतन नहीं मिल पाता तथा दक्षिणी दिल्ली में बढ़ाऐ गऐ हाउस टैक्स की दरों से लोग परेशान है। इन सब समस्याओं के चलते दिल्ली में भाजपा का ग्राफ काफी नीचे आ चुका है इसलिए भाजपा ने अपने बचाव के लिए धरने का ड्रामा किया।

बैठक को अध्यक्ष माकन ने पम्फलेट का हवाला देते हुऐ कहा कि कांग्रेस पार्टी ने 15 वर्ष के शासन काल के दौरान दिल्ली में जो काम किये वो आज भी देश व दुनिया में एक उदाहरण है। दिल्ली को संभावित प्रदूषण के खतरे से बचाने के लिए पूरी यातायात को सीएनजी गैस में बदला, दिल्ली को साफ़ पानी मिल सके इसके लिए सोनिया विहार में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाने जैसे अनेक छोटे-बड़े काम किये। शीला दीक्षित के नेतृत्व में 15 साल के दौरान कांग्रेस पार्टी ने 65 फ्लाई ओवर बनाये, 25 नए हस्पताल बनाये,  दिल्ली के हस्पतालों में बिस्तरों की संख्या 24025 से बढ़कर 43500 कर दी, दिल्ली में पानी सप्लाई 591 MGD से बढ़ाकर 906 MGD कर दी, शिक्षा में सुधार के लिए 6 यूनिवर्सिटी, 6 डीम्ड-यूनिवर्सिटी, 22 कॉलेज, 20 प्रोफेशनल कॉलेज, 12 पॉलिटेक्निक खोले। केजरीवाल सरकार ने तीन साल से अधिक के शासनकाल में इन क्षेत्रों में कोई नया काम नहीं किया।

News Reporter

Leave a Reply