गांधी जयंती पर पर्यावरणविद चंडी प्रसाद भट्ट ने रामधुन पर निकाली रैली
123
सन्तोषसिंह नेगी /  चमोली में  गांधी जयंती समारोह में राउमा /राउप्रा विद्यालय गाड़ी में चंडी प्रसाद भट्ट पर्यावरण विकास केंद्र द्वारा आयोजित “बापू 150” कार्यक्रम में सर्वप्रथम महिला मंगल दल ग्राम गाड़ी, विरही, व राउमा/राउप्रा विद्यालय गाड़ी द्वारा रामधुन के साथ गांव में रैली निकाली गयी। तत्पश्चात श्री भट्ट जी एवं मुख्य विकास अधिकारी चमोली द्वारा विद्यालय प्रांगण में पौध रोपण किया गया।  गोष्ठी को संबोधित करते हुए श्री भट्ट जी ने गांधी जी एवं शास्त्री जी के जीवन परिचय एवं उनके आदर्शों के बारे में विस्तार पूर्वक बताते हुए कहा कि बापू के सपनों का भारत गांवों में बसता है लेकिन आज विकास की दौड़ में हम अपने गांवो को भूल गये हैं।
साथ ही उन्होंने कहा कि बापू जी का सपना था कि हमारे गांव पूर्ण स्वावलंबी बने साथ ही वे हमारे पुराने कुटीर उद्योगों को सशक्त बनाकर उन्हें स्वरोजगार का उत्तम माध्यम बताते थे जिससे हमारे गांव पूर्ण स्वावलंबी बन सके। इसी क्रम में आगे उन्होंने कहा कि हमारे गांवों में मे कुटीर उद्योगो के लिए प्रचुर प्राकृतिक संसाधन मौजूद हैं बस जरूरत है इनका कुशल प्रबंधन एवं कौशल द्वारा समुचित उपयोग से ग्रामीणों को अवगत कराया जा य साथ ही उन्होंने कहा कि पेड़ों को बचाने के लिए चिपको आंदोलन भी बापू के बताए रास्ते के अनुरूप सत्य अहिंसा के मार्ग पर आधारित सत्याग्रह था। आगे उन्होंने गौना ताल एवं विरही ताल विभीषिका के बारे में बताते हुए कहा कि इन आपदाओं के मूल में भी जंगलो का अतिशय विनाश ही था।
साथ ही उन्होंने कहा कि दशोली ग्राम स्वराज मंडल द्वारा बिरही गंगा के क्षेत्र में 1970 में आपदा के बाद 3000 मजनू के पौधों का रोपण किया गया। इस अवसर पर जिला मुख्य विकास अधिकारी चमोली  हंसा दत्त पांडे ने उपस्थित ग्रामीणों एवं छात्र छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमें अपने जीवन में गांधी जी के आदर्शों को अपनाना होगा तथा इस मार्ग पर चलकर ही  हम अपने जीवन को सफल बनाने के साथ ही देश को विश्व गुरु के रूप में पुनः स्थापित कर सकते है। साथ ही उन्होंने छात्रों को ईंस्या घृणा द्वेष आदि से दूर रहते हुये बापू के सत्य अहिंसा के मार्ग पर चलने को कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि द्र्ड संकल्प ही सफलता की कुंजी है। इस अवसर पर उनके द्वारा छात्रों द्वारा बनाई गई गांधी जी पर पेंटिंग, विद्यालय के विग्यान कक्ष स्थानीय हस्तशिल्प कलाकारों द्वारा लगायी गयी हस्तशिल्प प्रदर्शनी मध्याह्न भोजन आदि का भी निरीक्षण किया।
गोष्ठी का संचालन डॉ बिनोद चंद्रा द्वारा किया गया। इस अवसर पर वयोवृद्ध समाज सेवी सुरेंद्र सिंह लिंगवाल सीपीबीसीईडी के प्रबंध न्यासी ओम प्रकाश भट्ट डॉ अरविंद भट्ट मंगला प्रसाद कोठियाल रघुवीर बिष्ट रघुवीर बर्तवाल विद्यालय के सभी संपूर्ण स्टाफ़ सहित क्षेत्रीय महिला मंगल दल सहित सभी क्षेत्रीय गांवों के लोग मौजूद थे ओमप्रकाश भट्ट ने इस अवसर पर सीपीसीईडी द्वारा    क्षेत्र के विद्यालयों में आयोजित निबंध पेंटिंग भाषण प्रतियोगिता के विजेता छात्रों को तथा महिला मंगल दलो व स्थानीय हस्तशिल्प कलाकारों को पुरस्कृत किया गया।

Leave a Reply