चमोली : सुशासन दिवस के रूप में मानाई गई अटल विहारी वाजपेयी की जंयती

पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल विहारी वाजपेयी की जंयती सुशासन दिवस के रूप में मानाई गई। चमोली जनपद के सभी 9 विकासखंड मुख्यालयों एवं 39 न्याय पंचायतों में विशेष कार्यक्रमों के जरिए पूर्व प्रधानमंत्री श्री वाजपेय के चित्र पर माल्यापर्ण कर श्रद्वांजलि दी गई। इस अवसर देश के वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने किसान सम्मान निधि योजना की नई किस्त जारी करते हुए देश के 9 करोड़ किसानों के खाते में डीबीटी के माध्यम से 18 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर किए। जिले में 47309 कृषक पीएम किसान सम्मान निधि के तहत पंजीकृत है। प्रधानमंत्री ने देश के कृषकों को संबोधित करते हुए नए कृषि सुधार कानूनों के फायदे भी बताए। प्रधानमंत्री को सुनने के लिए सभी विकासखंडों एवं न्याय पंचायतों में बडी संख्या में कृषक मौजूद रहे। सभी स्थलों पर कार्यक्रम का सफल संचालन हुआ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कृषको को संबोधित करते हुए कहा कि हर किसान का जीवन आसान बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्व है। आज सिर्फ खेती ही नही बल्कि उनकी सरकार किसानों को पक्का घर, शौचालय, साफ पानी, मुफ्त गैस व बिजली कनेक्शन, आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख तक स्वास्थ्य लाभ पहुॅचा रही है। मामूली 90 पैसे के प्रीमियम दर पर कृषकों को 60 वर्ष के बाद 3 हजार रुपये पेंशन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि बदलते समय के साथ हमें नई एप्रोच के जरिए कृषि को आधुनिक बनाना है। कहा कि मौजूद कृषि सुधारों के जरिए किसान अपनी उपज को जहाॅ अच्छा दाम मिले वहाॅ बेच सकते है। उन्होंने कृषि सुधारों के बारे में फैलाए जा रहे भ्रम और अफवाहों को दूर करते हुए कृषकों को कृषि सुधारों कानून से होने वाले फायदे भी गिनाए। इस दौरान प्रधानमंत्री ने देश के अनेक राज्यों में किसानों से सीधा संवाद किया। साथ ही क्रिसमस, गीता जंयती एवं अटल जी की जयंती के शुभअवसर पर पूरे देश वासियों को शुभकामनाएं भी दी।

प्रधानमंत्री के संबोधन को सुनने के लिए जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के निर्देशों पर जिले के सभी 9 विकासखंड मुख्यालयों में बडी स्क्रीन का प्रबंध किया गया था। वही 39 न्याय पंचायतों में स्क्रीन व टेलीविजन लगाने के साथ ही कार्यक्रम के संचालन हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए थे। इस दौरान क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि एवं बडी संख्या में कृषक मौजूद रहे। प्रधानमंत्री के संबोधन से पूर्व किसानों के हित में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णयों जैसे नीम कोटेड यूरिया, पीएम फसल बीमा योजना, स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड, एमएसपी के दामों में एतिहासिक बढोत्तरी, पीएम सिंचाई योजना, किसान रेल, 10 हजार एफपीओ को 1 लाख करोड़ रुपये का निवेश इत्यादि के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। इस अवसर पर कृषकों को फार्म मशीनरी, कृषि एवं औद्यानिक उपकरण एवं ऐतिहासिक कृषि सुधार कानून के फोल्डर वितरित किए गए। जिला पंचायत राज विभाग के माध्यम से न्याय पंचायत स्तरों पर आयोजित कार्यक्रमों के माध्यम से विभिन्न कल्याणकारी कृषि योजनाओं की जानकारी दी गई। कार्यक्रम स्थलों पर कोविड के मानकों का पालन करते हुए मास्क, सेनेटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग एवं अन्य जरूरी व्यवस्थाएं भी की गई थी।

जिलाधिकारी के प्रयासों से सुशासन दिवस पर जिले में एनआरएल के 5 ग्राम संगठनों को कृषि विभाग के माध्यम से 80 प्रतिशत सब्सिडी पर फार्म मशीनरी उपलब्ध कराई गई। जिसमें थराली में पिण्डर घाटी ग्राम संगठन, कर्णप्रयाग में जयबद्री ग्राम संगठन, दशोली में गौरा देवी स्वयं सहायता समूह, रूद्रनाथ स्वयं सहायता समूह सिरोली तथा जय धारी मां स्वयं सहायता समूह सैकोट को फार्म मशीनरी दी गई। इससे पूर्व भी जिला योजना के तहत 80 प्रतिशत सब्सिडी पर 75 कृषक समूहों को फार्म मशीनरी वितरित की जा चुकी है जिससे लगभग 350 से अधिक किसान लाभान्वित हुए है।

दशोली विकासखंड में आयोजित कार्यक्रम के दौरान राज्यमंत्री पुष्पा पासवान, भाजपा जिला अध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट, ब्लाक प्रमुख विनीता देवी, गोपेश्वर नगर मंडल अध्यक्ष विनोद कनवासी, दशोली मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह वर्तवाल, जिला महामंत्री नवल भट्ट, महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष चन्द्रकला तिवारी, विधायक प्रतिनिधि ईश्वर सिंह रावत, पूर्व जिप सदस्य भागीरथी कुंजवाल, मुख्य कृषि अधिकारी राम कुमार दोहरे, एसीएओ जीतेन्द्र भाष्कर, मुख्य उद्यान अधिकारी तेजपाल सिंह, खंड विकास अधिकारी आदि सहित किसान समूह से जुड़ी महिला आशा देवी, वीणा देवी, नर्वदा देवी, मीना देवी, यशोदा देवी, शकुन्तला देवी, उर्मिला देवी, मंजू देवी, पुष्पा देवी, सरिता देवी आदि मौजूद थे। अन्य सभी विकासखंडों में भी क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि, जिला स्तरीय अधिकारी एवं बडी संख्या में कृषक मौजूद रहे।

Leave a Reply