नवसृजित ब्लाक भरोहिया के कार्यालय भवन का मुख्यमंत्री ने किया भूमि पूजन
214

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद के नवसृजित ब्लाक भरोहिया के कार्यालय भवन का शिलान्यास एंव भूमि पूजन किया। भरोहिया ब्लाक में कुल 48 ग्राम प्रचायतें जिसमें कैम्पियरगंज के 9 ग्राम पंचायत तथा जंगल कौड़िया के 39 ग्राम पंचायत शामिल है जिसकी कुल आबादी लगभग डेढ़ लाख की है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि किसान खेतों में फसलों के अवशेष जलाते है जिससे खेतों की उर्वरा शक्ति कमजोर होती है। किसान पुआल न जलायें उन्हें इसका मूल्य भी मिले इस उद्देश्य से धुरियापार चीनी मिल के पास 1200 करोड़ की लागत से एथेनाल प्लान्ट लगाया जायेगा जिससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उपस्थित जन समूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि पहले पीपीगंज को विकास खण्ड बनाया गया था परन्तु क्षेत्र के विकास एंव गांव की दूरियों को ध्यान में रखकर भरोहिया ब्लाक को स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा गांव के विकास हेतु धनराशि सीधे ग्राम पंचायतों में भेजी जाती है लेकिन गांव के विकास हेतु सजगता एंव उत्सुकता को और तेज करने की आवश्यकता है ताकि विकास की गति को और तेजी से बढ़ाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने बताया कि ग्राम्य विकास विभाग द्वारा 8 लाख 81 हजार आवास बनाकर कीर्तिमान स्थापित किया गया है। इस सत्र में 2 लाख आवास और बनाने की कार्ययोजना है। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत तालाबों का सुन्दरीकरण, वृक्षारोपण, गोशाला निर्माण आदि कार्यों में इस धनराशि का उपयोग किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कृषि कार्य में भी मनरेगा को जोड़ने का मंथन हो रहा है ताकि किसानों की आय दुगुना करने का सपना साकार होते दिखाई दे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने पूरे देश के किसानों के लिए समर्थन मूल्य में काफी वृद्धि किया है जिसके तहत धान का समर्थन मूल्य 1460 रू0 प्रति कुन्तल से बढ़ाकर रू0 1750 प्रति कुन्तल किया गया है। उन्होंने बताया कि किसान को एक कुन्तल धान पैदा करने में रू0 1100 लागत आती है और जब उसको उसके उत्पादन की लागत रू0 1750 मिलेगा तो निश्चित रूप से उसका उत्साह बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने न्यूनतम समर्थन मूल्य में काफी बढ़ोत्तरी की है ताकि किसानों का उत्थान हो सके।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि सरकार शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु जो धनराशि अवमुक्त करती है उसका सदुपयोग समय से एंव गुणवत्तायुक्त तथा पारदर्शिता के साथ किया जाये तथा गांव को स्वच्छ एंव सुन्दर बनाने की दिशा में कार्य करें। उन्होंने कहा कि जिस तरह आप अपने घरों की सफाई करते है उसी भावना से गांव, नगर की सफाई पर ध्यान दें तथा इसके प्रति लोगों को जागरूक करें क्योंकि इंसेफलाइटिस बीमारी का प्रमुख कारण गंदगी ही है। उन्होंनं जनमानस से आव्हान किया कि वे स्वच्छता के प्रति जागरूक हो और गांव/नगर को स्वच्छ बनायें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अगस्त को व्यापक रूप से पूरे प्रदेश मे वृक्षारोपण कार्यक्रम चलाया जायेगा। उन्होंन अधिकाधिक वृक्षारोपण पर बल देते हुए कहा कि वृक्षारोपण के साथ साथ उसकी सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जाये ताकि पर्यावरण की सुरक्षा हो सके। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर पीपल, पाकड़, बीजू आम आदि का पौधा लगाये। उन्होंने कहा कि कल प्रधानमंत्री द्वारा आजमगढ़ में पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया गया है इससे विकास को काफी गति मिलेगी तथा गोरखपुर दक्षिणान्चल क्षेत्र को फोरलेन के द्वारा एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जायेगा और इससे औद्योगिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि एम्स, फर्टीलाइजर, गोरखपुर-सोनौली मार्ग के चैड़ीकरण का कार्य काफी गति किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस के 42 हजार जवान भर्ती किये गये है, भर्ती पूरी पारदर्शिता के साथ की गयी है। इसके अतिरिक्त 50 हजार की नई भर्ती भी निकलेगी। उन्होंने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार को समाप्त करने हेतु कृत संकल्पित है। टाउन एरिया का विस्तारीकरण हो इसके लिए कार्ययोजना के अनुरूप कार्य किया जायेगा। जनता को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि विकास का कोई विकल्प नही होता है लेकिन इस कार्य में सभी को जुड़ना होगा। उन्होंने यह भी कहा कि कूड़ा सड़कों व नालियों पर न फेंका जाये बल्कि उसे उचित स्थान पर रखे तथा स्वच्छता के प्रति लोगों में जागरूकता लाये।

इस अवसर पर ग्राम्य विकास मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार विकास के प्रति कृत संकल्पित है और इस दिशा में निरन्तर अग्रसर है। उसी परिप्रेक्ष्य में आज जनपद के 20वे ब्लाक के रूप में भरोहिया विकास खण्ड को शिलान्यास किया गया है जिससे जनता को काफी सहूलियत मिलेगी क्योंकि विकास के लिए ब्लाक को हाना आवश्यक है।

आभार ज्ञापन आयुक्त ग्राम्य विकास एन.पी. सिंह ने किया। इस अवसर पर विधायक कैम्पियरगंज फतेह बहादुर सिंह, खजनी संत प्रसाद, पिपराइच महेन्द्रपाल सिंह, प्रदेश संगठन मंत्री कामेश्वर सिंह, जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी, पूर्व क्षेत्रीय मंत्री उपेन्द्र शुक्ल सहित अन्य जन प्रतिनिधि गण तथा मण्डलायुक्त अनिल कुमार, जिलाधिकारी के0 विजयेन्द्र पाण्डियन, मुख्य विकास अधिकारी अनुज सिंह अमित सिंह मोनू रमाकांत निषाद विजय शंकर यादव आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply