गोरखपुर का लाल करेगा अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी को फतह

पर्वतारोही नीतीश कुमार सिंह राजेंद्र नगर पश्चिमी गोरखनाथ गोरखपुर का स्थाई निवासी है. रामपुर गोपालपुर,ब्लॉक चरगांवा, जिला गोरखपुर का मूल निवासी है। अक्टूबर 2020 में उत्तराखंड के माउण्ट रुद्र गैरा 19086 फिट की ऊंची चोटी को फतह किया है। अगला लक्ष्य अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउण्ट किलिमंजारो पर अपने देश का तिरंगा फहराने का है। जिसकी ऊँचाई 19340 फीट है जिसे फतह करने के लिए इसी जनवरी माह की 17 तारीख को गोरखपुर का लाल निकलेगा।

नीतीश कुमार सिंह चोटी को फतह करने के लिए उत्तराखंड में 2 महीने पहाड़ों में प्रशिक्षण लिया एवं गोरखपुर में पिछले एक महीने से प्रशिक्षण ले रहा है जिसमें मुख्य रुप से साइकिलिंग एवं 10 से 12 किलो वजन के साथ दौड़ लगाना एवं स्वास्थ्य के लिए योगा आदि शामिल रहा। अभी तक जितने भी पहाड़ों पर चढ़ाई की है,सभी पहाड़ो से जन जागरुकता के लिए संदेश दिए है।

इस बार गोरखपुर का लाल अंतर्राष्ट्रीय चढ़ाई के दौरान समाज के तीसरे मानव जाति किन्नर समाज को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए एक संदेश देगा। इसके लिए किन्नर अखाड़ा की महामंडलेश्वर किरन नंद गिरी जी का सहयोग मिलने के साथ साथ केयर फॉर यू संस्थान, जागरूक गोरखपुर फॉउंडेशन, सरयू क्षेत्र विकास संस्थान,सोशल थेरेपी फॉउंडेशन, युवा दर्पण, मैना देवी शिक्षा समिति एवं मित्र गण सहयोग कर रहे। अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी माउण्ट किलिमंजारो की चढ़ाई 21 जनवरी 2021 से साउथ अफ्रीका के तंजानिया से शुरु होगा एवं 26 जनवरी 2021 गणतंत्र दिवस के दिन माउण्ट किलिमंजारो चोटी को फतह कर वहां भारत का गौरव तिरंगा फहराने का लक्ष्य है।।

अभी तक चोटियों पर लहराया तिरंगा:-
2016 – दिल्ली में एक साल का प्रशिक्षण लिया
2018- माउंट एवरेस्ट पर 6200 मीटर, खराब सेहत की वजह से आगे न जा सके।
2018- लेह लद्दाख स्थित स्टॉक कांगड़ी 6124 मीटर
2019- अरूणाचल प्रदेश स्थित मीराथांग ग्लेश्यिर 16600 फीट
2020 – उत्तराखंड में 9000 फीट ऊंची पीननट चोटी
2020 – माउंट रुद्रगैरा, उत्तराखंड 19,081ft.

Leave a Reply