पुलिस मुठभेड़ में  एक लाख का इनामी बदमाश गिरफ्तार 3 पुलिसकर्मी जख्मी
168

कन्हैया लाल यादव /बलरामपुर। पुलिस मुठभेड़ में  एक लाख का इनामी बदमाश गिरफ्तार किया गया तथा तीन पुलिसकर्मी  मुठभेड़ के दौरान जख्मी हो गए पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का निरीक्षण कर घायलों का हालचाल जाना तथा अभियुक्त  को गिरफ्तार कर जेल रवाना किया। फरार अभियुक्तों की तलाश जारी है ।

शनिवार रात करीब 10:30 यू0पी0 डायल -100 मुख्यालय लखनऊ से प्रभारी निरीक्षक उतरौला के सी0यू0जी0 नम्बर पर 03 ब्यक्तियों से 20 हजार रुपये नगद व मोटरसाईकिल छीन कर सोरहिया काटा के पास से भागने की सुचना पर पुलिस टीम घटना स्थल सोरहिया काटा के लिये जाते समय गैड़ास बुजुर्ग के आगे स्थित बड़ी नहर के पुल पर पहुचे पर घटना वाले दिशा से एक मोटर साईकिल आती दिखी। जिस पर तीन व्यक्ति सवार थे रोकने के इशारे पर मोटरसाइकिल सवारों ने रुकने की बाजय नहर की पटरी पर पश्चिम दिशा मे तेजी से भागने के लिए मुड़े, कि मोटरसाईकिल फिसल कर गिर जाने के कारण भाग न सके । और पुलिस टीम फायर कर दिया जो गाड़ी के बाडी पर लगा ।  पुलिस मुठभेड़ की सुचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर। बदमाशो ने पुलिस वालो को जान से मारने की नियत से फायरिंग की जाने लगी, जिसके जबाब मे पुलिस ने भी रुक-रुक कर फायरिंग किया । जान की परवाह न करते हुये सन्तोष कुमार सिंह , नसीरुद्दीन व ओमप्रकाश यादव वाहन से निकलकर बदमाशों की तरफ बढ़े कि बदमाशों की फायरिंग से तीनो पुलिस कर्मी घायल हो गये ।

पुलिस मुठभेड़

घायल होने के बावजूद सन्तोष कुमार सिंह ने आत्मरक्षा मे सरकारी पिस्टल से फायरिंग की गयी, जिससे बदमाशों की तरफ से चीख सुनाई दी और सब कुछ शान्त हो गया ।पुलिस बल ने टर्च की रोशनी मे देखा तो एक ब्यक्ति सड़क पर कराह रहा था जिसके बाये पैर मे गोली लगी थी । उसके हाथ मे 12 बोर का तमंचा व पास पड़े हुये पिस्टल को कब्जे मे लिया गया । उसी बीच 02 बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गये । पुलिसकर्मियों के तलाश करने पर भी कोई सफलता नही मिली । घायल बदमाश का नाम पता पुछा गया तो उसने अपना नाम निजामुद्दीन उर्फ राजू पुत्र हबीब निवासी मथुरा बाजार थाना ललिया जनपद बलरामपुर बताया व भागे हुये दुसरे बदमाश का नाम प्रताप गोसाई निवासी करनैलगंज जनपद गोण्डा बताया तथा तीसरे का नाम की जानकारी न होना बताते हुये बताया कि प्रताप गोसाई ही उसका नाम पता जानता है । पुछताछ मे बताया कि यह 32 बोर पिस्टल प्रताप गोसाई का है वही इससे फायरिंग कर रहा था । उसने बताया कि 02 फरवरी 2018 को गलिवापुर के पास सुनार के साथ हुयी डकैती मे राधा रमण पाण्डेय, विपिन श्रीवास्तव तथा बंटी सिंह आदि के साथ वह भी शामिल था । उसने स्वीकार किया कि अभी थोडी देर पहले सोरहिया काटा के पास एक व्यक्ति से यह मोटर साईकिल, मोबाईल तथा पैसे छिना था जो उसके पैन्ट के जेब से बरामद हुआ । पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने अपनी टीम के साथ घटना का निरीक्षण कर घायल पुलिसकर्मियों का हालचाल जाना पकड़े गए अभियुक्त को उचित धाराओं में चालान कर जेल रवाना किया तथा फरार अभियुक्तों की तलाश शुरू कर दी है

Leave a Reply