कोरोना से यात्रा प्रभावित तो रहेगी परन्तु रुकेगी नही विधायक महेंद्र प्रसाद भट्ट

उत्तराखंड के चारों धामों के कपाट हर्षोल्लास के साथ के खुले इसके लिए सरकार व्यापक व्यवस्था बनाएगी।धार्मिक अनुष्ठान का श्रद्धा पूर्वक पालन होगा,तथा रावलो, मुख्यपुजारियों को सादर पूर्वक मंदिरों तक पहुँचाने के लिए सरकार प्रयासरत है।
उक्त बात बद्रीनाथ के विधायक महेंद्र भट्ट ने कही।उन्होंने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग की कि चारधाम यात्रा राज्य की आर्थिकी का श्रोत है, इसको व्यवस्थित रूप प्रदान करना होगा।कोरोना के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए यात्रा चालू रहे इसके प्रयास करने होंगें,

विधायक महेंद्र प्रसाद भट्ट ने बताया कि 3 मई से पूर्व चार धाम यात्रा पर जाने वाले यात्रियों की संख्या प्रत्येक धाम के लिए निर्धारित की जा सकती हैं।और उनके जाने, खाने,तथा रात्रि रहने, के लिए गाईड़ लाइन तैयार करनी होगी।
वहीं विधायक भट्ट ने स्वीकारा कि कोरोना से यात्रा प्रभावित तो रहेगी परन्तु ये रुकेगी नही।प्रथम चरण में इस यात्रा को गतिमान रखने का काम उत्तराखंड के 9 जिलों के लोगो को करना होगा,क्योंकि इन धामों के ही प्रभाव से कोरोना का प्रकोप इन जनपदों में नही हुआ है, सरकार को उत्तराखंड के इन जनपदों के नागरिकों से चारधाम यात्रा के प्रचार प्रसार पर विशेष ध्यान देना होगा,उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के किस जिले से किस धाम के लिए कितने यात्री जायेगे इसका निर्धारण भी किया जाना चाहिए ,आज यात्रा की बुकिंग ऑनलाइन करने की व्यवस्था है, तो पहले से जानकारी होने पर स्थानीय होटल मालिकों से सामाजिक डिस्टेन्स के नियमों के पालन के साथ यात्रियों को रुकवाने की ब्यवस्था हो सकती है।स्थानीय गाड़ी मालिको,बस मालिको के लिए भी गाईड़ लाईन का निर्धारण अनिवार्य है।वाहनों से उनको यात्रियों को एक दिन में किस जगह तक पहुचाना है।

रिपोर्ट- संतोष नेगी

Leave a Reply