अयोध्या : वैदिक रीति से की जाएगी कुंडों की सफाई

रिपोर्टर- बिस्मिल्लाह

रामनगरी अयोध्या के 107 पैराणिक कुंडों की 2 करोड़ रुपये से वैदिक रीति से सफाई की जाएगी. सीएफएम एनजीओ की मदद से कुंडों के पानी को रिचार्ज किया जाएगा। नगर आयुक्त विशाल सिंह ने बताया कि वैदिक रीति से अर्क के माध्यम से कुंडों के खराब से खराब पानी को साफ किया जाएगा.

इस प्राकृतिक वैदिक पद्धति से कुंडों के जल की सफाई करने से उनका वाटर लेबल भी रिचार्ज हो रहा है। उन्होंने कहा कि मृत प्राय कुंडों के पानी का ट्रीटमेंट किया जाएगा. अयोध्या में मनु, नल, नील, गणेश, उर्वशी, धनयक्ष आदि कई कुंड हैं। देखरेख के अभाव में कई कुंड अपना अस्तित्व खोते जा रहे हैं.

कई सूख गए हैं तो कब्जे के शिकार हो गए हैं।नगर निगम ने 107 कुंडों को चिह्नित कर इनकी सफाई के लिए पर्यटन विभाग से सहयोग मांगा है. अब 2 करोड़ रुपये के बजट से कुंडों, तालाबों के पानी की सफाई की जाएगी. बता दें कि सीएम योगी ने अयोध्या की 84 कोसी सीमा के सभी तीर्थों के विकास के निर्देश दिए हैं. नगर निगम की पहल उसी का हिस्सा मानी जा रही है।

Leave a Reply