अयोध्या में इस बार दीपोत्सव होगा कुम्भ मेले जैसा, 3 लाख जलेंगे दीप
205

फैजाबाद/राम नगरी अयोध्या में  दीपोत्सव कार्यक्रम इस बार कुम्भ मेले जैसा होगा और माहौल में इस बार विदेशों से भी पर्यटक शामिल होंगे. इसलिए इस दीपावली पर्व के अवसर पर होने वाला दीपोत्सव पिछले वर्ष के सापेक्ष और भी बेहतर, भव्य और आकर्षक रूप में दिखेगा।अयोध्या में यह आयोजन तीन दिनों  तक चलाया जाएगा और इस बार देश के तमाम हिस्सों से लोग हिस्सा लेंगे और उसके साथ विदेशों से भी लोग अयोध्या में दीपावली मनाएंगे जिसको लेकर अब प्रदेश के विभागों में मंथन शुरू हो गया है. इस दीपोत्सव को भव्यता देने के लिए सम्बंधित विभागों को कार्य सौंपा जा रहा है.कोरिया गणराज्य के राष्ट्रपति दीपोत्सव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे।

आज रविवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में अपर प्रमुख सचिव (पर्यटन) अवनीश अवस्थी ने आयोजित दीपोत्सव कार्यक्रम की तैयारी को लेकर बैठक किया जिसमें सभी विभागों को निर्देश जारी करते हुए तैयारियों को समय से पूरा करने की बात कही और हिदायत भी दी कि इस मामले में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।इस बार कोरिया का हाईस्टैंडिंग दल सहित कई विशिष्ट अतिथियों को आमंत्रित होंगे। ऐसे में जो कार्य गत वर्ष रह गए उन्हें इस बार पूरा किया जाएगा तथा सिंचाई विभाग सरयू खंड के अधिकारियों को निर्देशित किया कि लगभग 42 करोड़ रुपए के बजट से राम की पैड़ी से सम्बंधित योजना पर अमल के लिए एक माह के अंदर कार्यवाही शुरू कर दी जाए।

जिससे यह कार्य समय से पूरा हो सके वहीं संस्कृति विभाग की जमीन के सम्बंधित होने वाली सभी कार्यवाही को अनिवार्य रुप से अक्तूबर तक पूरा करने के निर्देश दिए और अयोध्या में मूर्ति स्थापना के लिए आइडियल लोकेशन का चयन भी जल्द करने कहा गया.अयोध्या में दीपोत्सव में इस बार तीन लाख दीपों से अयोध्या के राम पैडी सहित सरयू घाटों को जलाया जाएगा जो कि अवध विश्वविद्यालय के 55 सौ छात्र-छात्राओं को दीपोत्सव में लगाया जायेगा।

तीन दिन के दीपोत्सव कार्यक्रम में अयोध्या व फैजाबाद के सभी मन्दिरों की सजावट किया जायेगा , सरयू नदी के उस पार होगी आर्कषण आतिशबाजी, इस बार अयोध्या के साथ दीपोत्सव में गुप्तार घाट व भरत कुण्ड को भी शामिल किया जायेगा, दक्षिण कोरिया के हाई स्टेडिंग दल भी शामिल होने की संभावना है। दीपोत्सव के दौरान सांस्कृतिक कोरियाई दल के कार्यक्रम की प्रस्तुति के साथ सहित चार अन्य देशों के रामलीला दल को रामलीला मंचन होगा।

इसी तरह दीपोत्सव के पूर्व कुम्भ मेले की तर्ज पर हवाई अड्डा, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, पर्यटन स्थल व सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर लगवाने, अयोध्या के दोनों ओवरब्रिज के दोनों तरफ भव्य लाइटिंग, फूल मालाओं से मंदिरों को सजाने, शोभायात्रा व झांकी को भव्य व आकर्षक बनाने सहित शोभायात्रा को फैजाबाद शहर से निकाले जाने की योजना को भी मूर्त रुप दिया जाना है।

News Reporter

Leave a Reply