अमेठी : 2022 के विधान सभा चुनाव को लेकर शुरू हुई सियासी चाल

रिपोर्ट- कृष्ण कुमार

जैसे-जैसे 2022 नजदीक आता जा रहा है चुनावी सरगर्मियां भी तेज हो रही है । विभिन्न राजनीतिक पार्टियां जोड़-तोड़ में लगी हुई है । सभी को विधानसभा चुनाव ही दिखाई पड़ रहा है कि वह कैसे चुनाव में अपना परचम लहराए । इसी के दृष्टिगत क्षेत्रीय नेताओं को भी पार्टियां अपने में मिलाने में लगी हुई है । जिसमें समाजवादी पार्टी लोकप्रिय नेताओं को साथ में लेकर अपनी जमीन तैयार करने में जुटी हुई है ।

यह सियासी चाल अमेठी में कल देर शाम देखी गई । जब अमेठी विधानसभा के एक बडे नेता शिव प्रताप यादव जो पिछडी जाति से आते हैं । उन्होंने बहन जी को झटका देते हुए हाथी की सवारी छोड साइकिल की सवारी कर लिया। शिव प्रताप ने कहा कि वह सपा मुखिया अखिलेश यादव की नीतियो से प्रभावित होकर पार्टी मे शामिल हुआ हूँ। अखिलेश ऐसे नेता है जो गरीबो के लिए सोचते और करते है । शिव प्रताप यादव मुलायम परिवार के करीबी लोगो मे से हैं। गायत्री प्रजापति की नीतियो से नाराज होकर बसपा की हाथी पर सवार हो गये थे ।

एक बार फिर शिव प्रताप ने साइकिल की सवारी करते हुए अपने पुराने घर वापसी कर ली है । जिससे अमेठी में मायावती को एक और बड़ा झटका लगा है। यादव के पहले भी बसपा के कई बड़े नेता पार्टी छोड़ चुके हैं। शिवप्रताप यादव बसपा में टिकट की कतार में सबसे ऊपर थें। लेकिन वे पार्टी की नीतियों से परेशान थे। जिससे हाथी का साथ छोड़कर साइकिल पर सवार हो गए हैं। जेल में बंद पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के स्थान पर सपा को नए चेहरे की तलाश थी। जिससे यादव बसपा छोड़कर सपा में आए हैं। अमेठी में पिछड़ी जाति का बड़ा वोट-बैंक है। जिससे सभी दलों की नजर पिछडी जातियों पर रहती है। 2012 में अमेठी से सपा के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति विधायक चुने गए थे। लेकिन 2017 के चुनाव में वे हार गए थे। जिससे सपा अमेठी की सीट वापसी में जुटी है।

इसके लिए यादव को साइकिल पर चढ़ाया गया है। बसपा छोड़कर सपा में आए शिवप्रताप यादव ने कहा कि अखिलेश यादव के आदेश पर सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने उन्हें सदस्यता ग्रहण कराया है।उनका अब बसपा से कोई लेना-देना नहीं है। यादव के सपा में आने पर जिलाध्यक्ष छोटेलाल यादव ने कहा कि अमेठी में अब सपा की वापसी होगी।

सपा के जिलाध्यक्ष छोटे लाल यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार से जनता ऊब चुकी है । 2022 मे बदलाव होने जा रहा है अखिलेश यादव मुख्यमंत्री होगे अमेठी जिले की चारो सीटो पर सपा का कब्जा होगा । सूत्रो की माने तो अमेठी के कई राजनैतिक दलो के बडे नेता सपा से टिकट की आश लगा पर्दे के पीछे से ताकाझाकी में लगे हुए थे। लेकिन शिव प्रताप यादव ने समय से पहले ही छक्का लगा सब को आऊट कर दिया।

Leave a Reply