म्यांमार में हुए तख्तापलट के बाद कानपुर का परिवार सहमा

सोमवार को म्यांमार में हुए तख्ता पलट के बाद कानपुर का एक परिवार काफी सहमा हुआ है. इस परिवार के एक सदस्य म्यांमार में राजदूत है. तख्ता पलट होने के बाद से भारत के राजदूत सौरभ कुमार के पिता डॉ संतोष कुमार काफी सहमे हुए है.

डॉ. संतोष कुमार ने बताया कि बेटे सौरभ का हालचाल लेने के लिए फोन किया था. पता लगा है कि वहां स्थिति सामान्य है. म्यांमार की सेना ने वहां की सर्वोच्च नेता आंग सान सू की समेत कई नेताओं की गिरफ्तारी के बाद सत्ता अपने नियंत्रण में ले ली है. उन्होंने बताया की जब अपने बेटे सौरभ से टेलीफोनिक बात-चीत हुयी तब उन्होंने बताया कि म्यांमार की सड़कों पर सैनिक मौजूद हैं.

नवंबर में वहां हुए चुनाव के बाद से ही यह अंदेशा था कि कुछ बड़ा होने वाला है. सेना ने यह आरोप लगाया था कि चुनाव में गड़बड़ी हुई है, जिसके बाद सोमवार को यह खबर आते ही यहां डॉ. संतोष कुमार के पास शुभचिंतिको के फोन आने लगे. डॉ. संतोष कुमार ने बताया कि सब ठीक ठाक है. सौरभ इससे पहले ईरान में भारत के राजदूत थे. उनके पिता प्रोफेसर डॉ. संतोष कुमार मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के एचओडी रह चुके हैं.

Leave a Reply