दफ्तर से छुट्टी पाने के लिए अपहरण का ड्रामा, किया ये अनोखा काम

जब आपको दफ्तर जाने का मन नहीं करता तो आप क्या करते हैं? या तो आप अपने बॉस से छुट्टी की मांग करते हैं या कोई बहाना बनाकर छुट्टी ले लेते होंगे। लेकिन अमेरिका में एक फैक्ट्री के 19 वर्षीय कर्मचारी ने छुट्टी लेने के लिए ऐसी कहानी रची, जिसके बाद उसे लेने के देने पड़ गए। दरअसल, इस कर्मचारी ने दफ्तर से छुट्टी लेने के लिए अपने ही अपहरण की साजिश रच डाली, आपने बिल्कुल सही सुना, छुट्टी पाने के लिए इस शख्स ने किडनैपिंग की एक मनगढ़न कहानी गढ़ी।

डेली मेल की खबर के अनुसार, 19 वर्षीय ब्रांडन सॉल्स ने काम से छुट्टी पाने के लिए अपनी ही किडनैपिंग करवाई। बतौर पुलिस के, उन्होंने ब्रांडन सॉल्स को एक पानी टंकी के पास पाया। जहां उसके हाथ बेल्ट से बंधे हुए थे और उसके मुंह में एक कपड़ा ठूंसा हुआ था।

ब्रांडन ने पुलिस को दिए गए अपने बयान में कहा कि उसे दो लोगों ने अगवा कर लिया था। उन्होंने उसे बेहोश कर पानी के टॉवर से गुजरने के दौरान एक वाहन से बाहर इधर फेंक दिया। ब्रांडन ने दावा किया कि अपहरणकर्ताओं ने उसका अपहरण इसलिए कर लिया था क्योंकि उसके पिता ने शहर के चारों ओर पैसे छिपाए थे।

हालांकि, बाद में जब पुलिस की इन्वेस्टिगेशन टीम ने मामले की पड़ताल शुरू की तो उन्हें इस तरह का कोई सबूत नहीं मिला, जिससे यह साबित हो कि उसका अपहरण या हमला हुआ था।

एक स्थानीय अखबार के मुताबिक, ब्रांडन ने बाद में पुलिस के सामने स्वीकार किया कि उसने काम से छुट्टी पाने के लिए झूठी कहानी बना ली थी। उसे झूठी किडनैपिंग की कहानी गढ़ने के लिए 17 फरवरी 2021 को गिरफ्तार किया गया।

इस मामले में एक अधिकारी ने एबीसी न्यूज को बताया कि उसने हमें बताया कि उसने सबसे पहले अपने मुंह में कपड़े डालकर बंद किया और बाद में उसने खुद अपनी बेल्ट उतार ली और अपने हाथों को उसी बेल्ट से बांध दिया और फिर जमीन पर लेट गया। वह सड़क किनारे ऐसी जगह पर लेट गया, जहां से किसी भी राहगीर की नजर पड़ जाए। इसके बाद वह इंतजार करने लगा।

बताया जा रहा है कि कंपनी को जब इस पूरे मामले की जानकारी मिली तो कंपनी ने ब्रांडन को उसी वक्त काम से हटा दिया। फिलहाल, यह मामला सोशल मीडिया में काफी चर्चा में है।

Leave a Reply