विश्व पर्यावरण दिवस पर खरीफ फसलों पर एकदिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम

पीपीगंज।आज दिनाँक 5-06-19 दिन बुधवार को महायोगी गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र, चौकमाफी, गोरखपुर तथा वन विभाग गोरखपुर के संयुक्त तत्वाधान में आर. के. वी. वाई. परियोजनान्तर्गत खरीफ फसलों पर एकदिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा विश्व पर्यावरण दिवस का संयुक्त रूप से आयोजन किया गया। कार्यक्रम में कृषि में उन्नत कार्य हेतु जनपद के पांच किसानों जंगल कौड़िया के ब्लॉक प्रमुख बृजेश यादव तथा गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र के सचिव बाबा कमलनाथ के कर कमलों द्वारा सम्मानित किया गया । राखुखोर गांव के कोइली देवी को गेँहू की नयी प्रजाति DBW187 से 4 मंडी में 2.40 कुंतल पैदावार, बैजनाथपुर के बबलू को चने की फसल में अधिक पैदावार, पचगवां के जयहिंद सिंह को सरसों की उन्नत शील खेती सहित चौमाफी के लालप्रसाद यादव तथा धर्मेंद्र पांडेय को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए केंद्र के प्रसार वैज्ञानिक डॉ. राहुल कुमार सिंह ने विश्वपर्यावरण दिवस की महत्ता को बताते हुए किसान भाइयों से ऑर्गेनिक खेती के मुख्य पहलुवों पर विचार रखा। कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि वृजेश यादव ने वृक्षों को पुत्र की संज्ञा देते हुए कहा कि एक वृक्ष 10 पूत्रों के बराबर है ।

उन्होंने ने उत्तर प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी के जन्मदिवस को याद दिलाते हुए उनके लंबी उम्र की कामना भी किया।कार्यक्रम में किसानों को संबोधित करते हुए केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. आर. पी. सिंह ने केंद्र के कार्यों को बताते हुए खरीफ में किसानों को रोग तथा कीटों से फसल सुरक्षा की जानकारी विस्तार से बताया साथ ही साथ पर्यावरण दिवस तथा केंद्र के संस्थापक परम पूज्यनीय योगी आदित्यनाथ जी के जन्मदिवस के संदर्भ में अपने विचार रखे। इस अवसर पर धान की उन्नतशील प्रजाति सम्भा सब -1, एच. यू. आर.-105, तथा नरेंद्र – 2065 के साथ साथ क्षेत्र के 100 चयनित किसानों को सागौन एवं आवंला के वृक्ष भी वितरित किये गए। केंद्र के शस्य वैज्ञानिक डॉ. अवनीश सिंह ने उपरोक्त वितरित प्रजातियों के जलमांग, अवधि तथा नर्सरी डालने से लेकर फसल की कटाई तक के वैज्ञानिक तरीकों को विस्तार से बताया ।

कार्यक्रम में उपस्थित मृदा वैज्ञानिक डॉ संदीप उपाध्याय, उद्यान वैज्ञानीक डॉ. अजित श्रीवास्तव तथा पशुपालन वैज्ञानिक डॉ वी. पी. सिंह ने अपने कार्यों से संबंधित विषय पर विस्तार से चर्चा किया । इस अवसर पर बढ़या चौक के प्रधान के जनप्रतिनिधि के रूप में राजय सिंह राखुखोर गांव के पूर्व प्रधान शशिकांत मिश्रा, टेधाबीर अउरी, चौकमाफी के धर्मेंद्र पांडेय तथा लालप्रसाद यादव सहित कुल 150 किसान उपस्थित रहे।

Leave a Reply