टीवी पत्रकार पर जानलेवा हमले,डकैती मामले में पुलिस ने 5 लोगों को किया ट्रेस

सीतापुर। बीते 13 मार्च को टीवी पत्रकार और पत्रकार यूनियन के वरिष्ठ उपद्यक्ष पर हुए जानलेवा हमले,डकैती मामले में आज पत्रकार पुलिस अधीक्षक से मिले। वहीं एसपी ने मामले पर सीओ सिटी से रिपोर्ट मांगी है। विदित हो कि बीती 13 मार्च को टीवी पत्रकार सुधांशु पुरी पर खैराबाद थाना क्षेत्र में आईटीआई मोड़ पर 5 नकाबपोश हमलावरों द्वारा जानलेवा हमला किया गया था। वहीं हमलावरों ने पत्रकार को जान से मार देने के उद्देश्य से फायरिंग भी की गई थी। वहीं इस मामले की विवेचना क्राइम ब्रांच सीतापुर इंस्पेक्टर विवेक मौर्या द्वारा की जा रही है। पुलिस द्वारा इस घटना में शामिल 5 लोगों को ट्रेस कर लिया गया है। वहीं घटना में शामिल सफेद बलेनो कार को भी ट्रेस किया गया है। वहीं अभी आरोपी पुलिस की गिरफ्तारी से दूर है।लेकिन सूत्रों की माने तो मामले में मामले में गवाहों के बयानों को नजरअंदाज किया जा रहा है।विवेचना में धारा 307 ना बढ़ाकर मुकदमे में डकैती की धारा को भी हटाने का प्रयास किया जा रहा है।जिससे मारपीट की जमानती धारा में पांचों आरोपियों पर चार्जशीट लगाई जा सके।

आरोपियों पर कई थानों में दर्ज है संगीन मामले

आपको बता दें कि मामले में शामिल आरोपियों पर कई थाने में काफी संगीन मामले दर्ज है। जिसमे लूट,जान से मारना, मारपीट जैसी कई गंभीर धाराएं दर्ज है। पत्रकार हमले मामले में कोई कार्यवाही ना होने की वजह से दबंगों के हौसले बेहद बुलंद है।

पत्रकार व उसके परिवार को जान का खतरा

इस हमले और डकैती के बाद पत्रकार और उसके परिवार को जान का खतरा बना हुआ है। टीवी पत्रकार सुधांशु पुरी का कहना है कि घटना में शामिल आरोपियों को तो सर्विलांस के माध्यम से ट्रेस किया गया लेकिन मैं उन पांचों को नही जानता। घटना करने का क्या उद्देश्य था किसके कहने पर घटना कराई गई यह नही पता चल पाया है। पुलिस द्वारा धारा 395 को हटाया जा सकता है और ना ही धारा 307 बढ़ाई गई है जिससे उनके हौसले बुलंद है। जिससे मेरे परिवार को उन दबंगों से जान का खतरा बना हुआ है। आज हम पत्रकार नवागत एसपी सीतापुर से मिले थे उनका कहना था कि दोषी बख्शे नही जाएंगे।

एसपी ने सीओ सिटी योगेंद्र सिंह से मंगाई पूरे मामले पर रिपोर्ट

वहीं आज इस मामले में एसपी सीतापुर से पत्रकार आज मिले। वहीं नवागत एसपी द्वारा सीओ सिटी को इस पूरे मामले को आज शाम तक पूरी रिपोर्ट देने के लिए कहा है।

Leave a Reply