2019 में मोदी की ईंट से ईंट बजा देंगे, राम मंदिर ना बनने से नाराज हुए अयोध्या के संत देखें वीडियो
287

फैजाबाद के मंडलायुक्त कार्यालय पर उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब अयोध्या में विवादित परिसर में राम मंदिर निर्माण को लेकर धर्म सेना ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रेषित एक ज्ञापन मंडलायुक्त फैजाबाद मनोज मिश्र के माध्यम से भेजने का प्रयास किया और ज्ञापन देने के लिए मंडलायुक्त कार्यालय पहुंचे,लेकिन मंडलायुक्त मनोज मिश्र ने ज्ञापन लेने से इंकार कर दिया जिसके बाद धर्म सेना के कार्यकर्ताओं ने मंडलायुक्त कार्यालय के बाहर धरना शुरू कर दिया और जय श्रीराम का जय घोष करते हुए नारेबाजी करने लगे,कड़ी धूप में करीब घंटे भर धर्म सेना के कार्यकर्ताओं का यह हंगामा चलता रहा ।

 

मामले की सूचना मिलते ही काफी संख्या में पुलिस बल मंडलायुक्त कार्यालय पहुंच गए और प्रदर्शन कर रहे धर्म सेना के कार्यकर्ताओं को समझाने बुझाने का प्रयास किया ,वही ज्ञापन देने पहुंचे धर्म सेना के कार्यकर्ताओं में प्रमुख रूप से मौजूद संतोष दुबे ने कहा कि हमने खून पसीने से सींचकर जिस सरकार को खड़ा किया उसी सरकार में राम भक्तों का अपमान हो रहा है अगर अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं हो सकता तो साल 2019 में भाजपा की सरकार नहीं बनने वाली और इसका खामियाजा देश के प्रधानमंत्री को भुगतना पड़ेगा।

राम मंदिर आंदोलन अब सावन से शुरू होगा ,धर्म सेना ने किया ऐलान किया है कि सावन के महीने में लाखों राम भक्त अयोध्या पहुंचेंगे और राम मंदिर निर्माण के लिए एक आंदोलन खड़ा करेंगे ।और जो ज्ञापन नहीं लिया कमिश्नर ने तो कल सरयू नदी में इसे प्रभावित किया जाएगा।

Leave a Reply