कृषक प्रशिक्षण में किसानों को दिए गए अगेती सब्जी खेती गुर
24

पवन पांडे।आज दिनांक 15 मई 2019 दिन बुधवार को महायोगी गोरखनाथ कृषि विज्ञान केंद्र चौक माफी पीपीगंज पर उद्यान विज्ञान विषय के अंतर्गत मचान विधि से लौकी एवं करेला की उन्नतशील खेती पर एक दिवसीय कृषक प्रशिक्षण का आयोजन किया गया प्रशिक्षण कार्यक्रम में आए हुए कृषकों का स्वागत एवं अभिनंदन करते हुए उद्यान विशेषज्ञ डॉक्टर अजीत कुमार श्रीवास्तव ने लौकी एवं करेला की अगेती फसल लेने पर विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इन पौधों की समय पूर्व नर्सरी तैयार कर लें जिससे जुलाई माह में खेत तैयार कर पौधों की रोपाई कर सकते हैं इसके साथ ही डॉक्टर श्रीवास्तव ने लता वर्गीय सब्जियों के पौधों में कटिंग विधि से अधिक पैदावार लेने की भी बात बताई कटिंग की जानकारी देते हुए आप ने बताया कि पौधों की मुख्य शाखा की लंबाई जड़ से 5 से 6 फिट होने पर कटिंग करें तथा द्वितीयक शाखा की लंबाई तीन से चार फिट होने पर कटिंग करें तृतीय शाखा की कटिंग नहीं करते हैं इस शाखा पर मादा फूल आते हैं इस विधि को करने से पौधे में शाखाएं अधिक निकलती हैं जिससे फल अधिक लगते हैं।

कटिंग किए गए पौधों पर सामान्य विधि से बोई गई फसलों की तुलना में 5 से 6 दिन पहले ही फल आ जाते हैं मादा फूल ज्यादा आने से उपज भी ज्यादा होती है इसके पश्चात मृदा विशेषज्ञ श्री संदीप प्रकाश उपाध्याय ने खेतों से मृदा नमूना लेने एवं मृदा जांच से संबंधित विषय पर चर्चा की केंद्र के प्रसार विशेषज्ञ राहुल कुमार सिंह ने किसानों की आय बढ़ाने के विभिन्न तरीकों को बताया उन्होंने समस्त कृषकों से खेतों में पड़ी हुई पराली न जलाने का अनुरोध किया और उसके साडाने एवं गलाने के तरीकों को बताया कार्यक्रम में उपस्थित डॉक्टर विवेक प्रताप सिंह विशेषज्ञ पशुपालन ने गर्मियों में पशुओं की देखभाल एवं उनके रखरखाव की बात की इस कार्यक्रम में ग्राम मझोना से हरिहर मिश्रा हरिओम मिश्रा अश्वनी मिश्रा धनंजय यादव ग्राम चौक माफी से राम आशीष उपाध्याय छेदी लाल यादव ग्राम बैजनाथपुर से परमात्मा राजेंद्र यादव बाबूराम ग्राम राखूखोर से रामनरेश सिंह आदि कृषकों ने सहभागिता की।

Leave a Reply