1win1.az luckyjet.ar mines-games.com mostbet-casino-uz.com bible-spbda.info роскультцентр.рф
1win.com.ve 1wins.pl 1winz.com.ci aviators.cl lucky-jets.co tgasu.ru
केजरीवाल सरकार दिल्ली के नरेला में 50 एकड़ में बना रही IGDTUW का नया कैंपस, 25 हजार छात्राओं को मिलेगा दाखिला

*दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (IGDTUW) के छात्राओं से किया आह्वान, आम आदमी के जीवन को आसान बनाने के लिए करें रिसर्च*

*किसी भी देश के विकास में वहां की यूनिवर्सिटी की होती है अहम भूमिका, दिल्ली और देश के विकास के साथ सामाजिक बदलाव में भी IGDTUW निभा रही है लीड रोल- उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया*

*बच्चों को जॉब सीकर्स की भूमिका से बाहर निकाल जॉब प्रोवाइडर बनाने के लिए यूनिवर्सिटी करे प्रशिक्षित- उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया*

*दिल्ली इकलौता ऐसा राज्य है, जहां केजरीवाल सरकार अपने बजट का 25 फीसदी खर्च शिक्षा क्षेत्र पर करती है – मनीष सिसोदिया*

“किसी भी देश के विकास में वहां की यूनिवर्सिटी की अहम भूमिका होती है। साथ ही जो देश अपनी यूनिवर्सिटी को बेहतर बनाते हैं उस देश का विकास शुरु हो जाता है। इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (IGDTUW) भी दिल्ली और देश के विकास के साथ सामाजिक बदलाव में भी अहम भूमिका निभा रही है। केजरीवाल सरकार यूनिवर्सिटी के हर प्रयास में उसके साथ हैं।” उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ये बातें गुरुवार को  इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (IGDTUW) के चौथे दीक्षांत समारोह में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कही| उन्होंने कहा कि देश के विकास में रिसर्च की अहम भूमिका होती है। यूनिवर्सिटी अपना फोकस रिसर्च पर बढ़ाए. सरकार हर से सहयोग करेगी। 

उन्होंने विद्यार्थियों का आह्वान करते हुए कहा कि आम आदमी के जीवन को आसान बनाने वाली चीजों पर फोकस करते हुए रिसर्च कीजिए। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि ये देखकर अच्छा लग रहा है कि IGDTUW की छात्राओं को दुनिया भर की बड़ी कंपनियों में जबरदस्त पैकेज पर प्लेसमेंट मिला है। लेकिन हमें ये ध्यान रखना है कि देश के विकास के लिए जरूरी है कि हम जॉब प्रोवाइडर पैदा करें। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि जल्द ही IGDTUW का एक नया कैैंपस नरेला में 50 एकड़ में बनकर तैयार हो जाएगा। इस कैंपस में 25 हजार छात्राओं को दाखिला मिलेगा।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि बतौर शिक्षा मंत्री मेरी इस यूनिवर्सिटी से उम्मीद थी कि वो क्वालिटी और क्वांटिटी दोनों पर खरा उतरे। इस संस्थान ने दोनों ही मुकाम हासिल किया है। हमारा प्रयास है कि दिल्ली के हर बच्चे को अच्छी शिक्षा मिले। इस तरह के टॉप संस्थान में सीटों की संख्या बढ़ाने में सरकार हर कदम पर आपके साथ खड़ी है। हम बजट की कमी नहीं होने देंगे। देश में दिल्ली इकलौता ऐसा राज्य है जहां केजरीवाल सरकार अपने बजट का 25 फिसदी खर्च शिक्षा क्षेत्र पर करती है। केजरीवाल सरकार दिल्ली के नरेला में  इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (IGDTUW) का नया कैंपस बना रही है। ये कैंपस 50 एकड़ में बनेगा। इस कैंपस में 25 हजार छात्राओं को दाखिला मिलेगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि IGDTUW ने देश और दिल्ली के विकास में और सामाजिक बदलाव में अहम भूमिका निभाई है। सरकार और सोसाइटी के साथ पार्टनरशिप कर यूनिवर्सिटी  क्वालिटी पर फोकस करे। रिसर्च पर फोकस करे।  उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आज दुनिया भर में अलग अलग चीजों को लेकर रिसर्च हो रहे हैं। जरूरत इस बात की है कि देश में रिसर्च को बढ़ावा दिया जाए।

 IGDTUW ने दिल्ली सरकार के EMC करिकुलम, हैप्पीनेस करिकुलम सहित अनेक कार्यक्रमों में पार्टनर की तरह भूमिका निभाई है। अब वक्त है कि यूनिवर्सिटी अपने यहां के छात्रों को इस तरह से ट्रेन करे कि वो जॉब सीकर्स के बजाए जॉब प्रोवाइडर बनें। हम लगातार सेलीब्रेट करते हैं कि इस बच्चे को इतना बड़ा पैकैज मिल गया है। अमेरिका की टॉप कंपनी में जॉब मिल गई है। अब इसे बदलना है। हमें इस बात को भी सेलिब्रेट करना है कि यूनिवर्सिटी के इतने बच्चों नें कंपनी खोली जिसमें उन्होंने लोगों को जॉब दी।

दिक्षांत समारोह में लगभग 368 स्नातक, 131 स्नातकोत्तर, और 13 डॉक्टरेट को उनकी डिग्री से सम्मानित किया गया। दीक्षांत समारोह में शैक्षणिक वर्ष 2020-2021 के स्नातक उपस्थित थे। इस अवसर पर विभिन्न पाठ्यक्रमों के सभी टॉपर्स को दो चांसलर गोल्ड मेडल, चौदह वाइस चांसलर गोल्ड मेडल और सालों भर अनुकरणीय प्रदर्शन करने वाले चौदह छात्रों को  सिल्वर प्लाक दिया गया। जिन छात्रों को डिग्री प्रदान की गई , वे पहले से ही देश भर के विभिन्न कॉर्पोरेट और सामाजिक क्षेत्र के संगठनों के साथ काम कर रहे हैं, जिन्होंने अपना कोर्स पूरा कर लिया है।

News Reporter
पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बनाने वाली निकिता सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से ताल्लुक रखती हैं पिछले कुछ सालों से परिवार के साथ रांची में रह रहीं हैं और अब देश की राजधानी दिल्ली में अपनी सेवा दे रहीं हैं। नेशनल ब्रॉडकास्टिंग अकादमी से पत्रकारिता में स्नातक करने के बाद निकिता ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के न्यूज़ पोर्टल्स में काम किया। उन्होंने अपने कैरियर में रिपोर्टिंग से लेकर एंकरिंग के साथ-साथ वॉइस ओवर में भी तजुर्बा हासिल किया। वर्त्तमान में नमामि भारत वेब चैनल में कार्यरत हैं। बदलती देश कि राजनीती, प्रशासन और अर्थव्यवस्था में निकिता की विशेष रुचि रही है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही आम जन मानस को प्रभावित करने वाली खबरों पर पैनी नज़र रखती आ रही हैं। बेबाकी से लिखने के साथ-साथ खाने पीने का अच्छा शौक है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ में योगदान जारी है।
error: Content is protected !!