सेक्स स्कैंडल में नाम आने के बाद कर्नाटक के मंत्री रमेश जारकीहोली ने दिया इस्तीफा, खुद को बताया निर्दोष

कर्नाटक के कैबिनेट मंत्री रमेश जारकीहोली ने बुधवार को एक सेक्स टेप में अपना नाम आने से अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस त्यागपत्र को राज्य के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने स्वीकार भी कर लिया है और आगे राज्यपाल के पास भेज दिया है। हालांकि, मंत्री जारकीहोली ने खुद को निर्दोष बताया है। उन्होंने मांग करते हुए कहा है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि भले ही मैं निर्दोष हूं, लेकिन अपनी नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए कैबिनेट में अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

बता दें कि कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली पर एक संगीन आरोप लगा है। रमेश के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है। जिसमें आरोप लगाया गया है कि नौकरी का झांसा देकर एक महिला का यौन उत्पीड़न किया गया। बाद में उनके परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। इस मामले में जब सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने बेंगलुरु शहर के पुलिस कमिश्नर कमल पंत से मुलाकात की तो कुछ न्यूज चैनल्स ने जरकीहोली के तथाकथित निजी पल के वीडियो मीडिया में प्रसारित करना शुरू कर दिया। हालांकि, अभी ये स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कितना पुराना है।

कल्लाहल्ली ने कहा कि महिला ने खुले तौर पर सामने आने मना कर दिया है। पुलिस में शिकायत दर्ज करने के लिए महिला ने मुझसे संपर्क किया और आरोप लगाया है कि मंत्री ने उन्हें कर्नाटक पॉवर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड में नौकरी का झांसा देकर यौन शोषण किया। जब मंत्री को पता चला कि महिला के पास सीडी (आपत्तिजनक वीडियो) है तो मंत्री ने महिला को और उसके परिवार को धमकी दी। इस पूरे मामले में कल्लाहल्ली ने पूरे मामले की जांच की मांग की है और मंत्री के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर पीड़िता को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है।

Leave a Reply