झाँसी : कोविड-19 वैक्सीन के बारे में फैलाई जा रही अफवाह

रिपोर्ट – विवेक राजपूत झाँसी

आज राष्ट्रभक्त संगठन के तत्वाधान में हिंदू जागरण मंच, हिंदू युवा वाहिनी, प्रधानमंत्री जनकल्याणकारी योजना प्रचार प्रसार समिति, शिया धर्मगुरू एवं अन्य संगठनों की कोविड-19 टीके के सम्बन्ध फैली भ्रांतियों को दूर करने के लिये प्रेसवार्ता सर्किट हाउस में आयोजित की गई, जिसमें बताया गया कि कोरोना महामारी से सम्पूर्ण विश्व में लाखों लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

भारत सरकार द्वारा कोरोना महामारी के लिये आपदा अधिनियम को 31 मार्च तक बढ़ा दिया गया है इस महामारी से बचाव के लिये वैक्सीन का अविष्कार हो चुका है, सरकार द्वारा 16 जनवरी से वैक्सिनेशन शुरू किया जाना तय किया गया है। कुछ संगठनों द्वारा यह अफवाह फैलाई जा रही है कि कोविड-19 वैक्सीन लगवाना हराम होगा क्योंकि वैक्सीन सुअर की चर्बी से बनी है जबकि भारत में कोरोना वैक्सीन पूर्णतः स्वदेश निर्मित है। इस सन्दर्भ में मुस्लिम समुदाय की सबसे बड़ी अल अजहर विश्वविद्यालय काहिरा मिश्र से सम्बंधित दारूल हफ्ता मिश्र के अध्यक्ष डाॅ० खालिद इमरान ने बयान दिया है कि कोविड-19 वैक्सीन में सुअर की चर्बी नहीं है। यह अफवाह इण्डोनेशिया के एक संगठन द्वारा उड़ाई जा रही है जो स्वयं दवाओं के लिए चीन पर निर्भर है।

धार्मिक गुरुओं के अनुसार कुरान इस बात को सही मानता है कि अगर वैक्सीन हराम वस्तु से बनी है तब भी इसका इस्तेमाल जान बचाने के लिए किया जा सकता है। इस्लामिक स्कॉलर मुफ्ती मंजूर जीयाई ने मुस्लिम समाज से अपील की है कि वह इस प्रकार की किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दें वैक्सीन पूर्ण रूप से सुरक्षित है और वैक्सीन के खिलाफ अफवाह फैलाने से कुछ लोगों के जीवन के लिए खतरा पैदा हो सकता है जो टीकाकरण नहीं करवायेंगे, वैक्सीन पर धार्मिक या राजनैतिक रंग चढ़ाना उचित नहीं है।

सैयद मोहम्मद अशरफ किछौछवी अध्यक्ष ऑल इंडिया उलेमा और मसायख बोर्ड ने अपने बयान में स्पष्ट किया है कि कोविड-19 वैक्सिंग सूअर की चर्बी से नहीं बनी है अतः आप सभी इस भीषण महामारी को भगाने में अपना सहयोग करें। प्रेस वार्ता में आयोजकों द्वारा सभी मुसलमान भाईयों से अपील की गई कि इस प्रकार की अफवाहों से बचें और कोरोना महामारी को भगाने में और कोविड-19 टीकाकरण में अपना सहयोग करें व प्रचार-प्रसार के माध्यम से अपने अपने क्षेत्र में विभिन्न राष्ट्र विरोधी तत्वों द्वारा फैलाई जा रही भ्रांतियों एवं भ्रामक सूचनाओं का खंडन करते हुए अन्य लोगों को भी जागरूक करें।

इस प्रेसवार्ता के दौरान शिया धर्मगुरु सैयद शान-ए-हैदर जैदी, अंचल अड़जरिया, राजेश नायक, किशोर तिवारी, छोटू कुशवाहा, संतोष खटीक, मनोज साहू, पुरकेष अमरया, संजय श्रीवास्तव, मनीष साहू, संजय श्रीवास्तव, यशवीर सिंह, राजीव गर्ग, पुरकेष अमरया, श्रीराम नरवरिया, मनोज चौरसिया, आकाश वर्मा, शैलेंद्र मोनू, संतोष खरेला, उमेश शर्मा व महानगर मीडिया प्रभारी अतुल वर्मा उपस्थित रहे।

Leave a Reply