ग्राम प्रधानों पद हेतु 120, क्षेत्र पंचायत पद हेतु 53, प्रमुख पद हेतु 14 आवेदन प्राप्त
 संतोषसिंह नेगी/ जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया की अध्यक्षता में गठति समिति ने गुरूवार से त्रिस्तरीय पंचायतों के सामान्य निर्वाचन-2019 हेतु ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत के स्थानों व पदों के अनन्तिम आरक्षण और आवंटन निर्धारण के सापेक्ष प्राप्त दावे और आपत्तियों पर सुनवाई शुरू हो चुकी है। त्रिस्तरीय पंचायतों के निर्वाचन हेतु आरक्षण प्रस्तावों का अनन्तिम प्रकाशन के बाद 28 अगस्त तक दावे एवं आपत्तियां आमंत्रित की गई थी। जिले में ग्राम प्रधानों पद हेतु 120, क्षेत्र पंचायत पद हेतु 53, प्रमुख पद हेतु 14 तथा जिला पंचायत के स्थानों व पदों हेतु 21 दावे एवं आपत्तियां प्राप्त हुई।
क्लेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी ने पंचायत आरक्षण के अनंतिम प्रकाशन पर प्राप्त आपत्तियों की गहनता से जाॅच करते हुए जन सुनवाई शुरू कर दी है। उन्होंने आपत्तिकर्ता का पक्ष सुनकर हर एक आपत्ति पर सुनवाई की। पहले दिन की समाप्ति तक 70 प्रतिशत दावे एवं आपत्तियों पर सुनवाई पूरी हो चुकी है। सभी दावे एवं आपत्तियों का 30 अगस्त तक निस्तारण किया जाएगा। इस दौरान सीडीओ हंसादत्त पांडे, एडीएम एमएस बर्निया, एसडीएम बुशरा अंसारी, डीपीआरओ आरएस गुंजियाल सहित भारी संख्या में आपत्तिकर्ता भी मौजूद थे। जिलाधिकारी ने बताया कि प्राप्त आपत्तियों का निस्तारण करने के बाद 31 अगस्त को आरक्षण प्रस्तावों का अंतिम प्रकाशन किया जायेगा।
बतातें चलें कि जिले के विभिन्न क्षेत्रों से त्रिस्तरीय पंचायत के अनन्तिम आरक्षण प्रस्तावों के निर्धारण के सापेक्ष ग्राम प्रधान पद हेतु विकास खण्ड जोशीमठ से 11, दशोली से 13, घाट से 5, पोखरी से 12, कर्णप्रयाग से 12, नारायणबगड से 14, देवाल से 29, थराली से 10 तथा गैरसैंण से 14 सहित कुल 120 दावे एवं आपत्तियां प्राप्त की गई।
जबकि क्षेत्र पंचायत पद हेतु विकासखण्ड जोशीमठ से 17, दशोली से 8, घाट से 2, पोखरी से 3, कर्णप्रयाग से 5, नारायणबगड से 8, देवाल से 2, थराली से 4 तथा गैरसैंण से 4 सहित कुल 53 दावे एवं आपत्तियां प्राप्त हुई थी। प्रमुख पद हेतु विकासखण्ड जोशीमठ से पोखरी से 3, कर्णप्रयाग से 2, देवाल से 8 तथा गैरसैंण से 1 सहित कुल 14 दावे एवं आपत्तियां प्राप्त की गई। जिला पंचायत सदस्य के पद हेतु विकासखण्ड जोशीमठ से 9, दशोली से 1, घाट से 2,  कर्णप्रयाग से 2, नारायणबगड से 5, देवाल तथा गैरसैंण से 1-1 आपत्ति सहित कुल 21 दावे एवं आपत्तियां प्राप्त की गई।

Leave a Reply