तबलीगी जमात के कारण यूपी में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ी-अवनीश अवस्थी

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अपरमुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया है कि अब तक तबलिकी जमात के 1281 लोग चिन्हित किये गए है।जिसमें 306 विदेशी चिंहित किये गए है। इनमें जितने भी कोरोना पोस्टिव निकले है, वह लोग प्रदेश के जिन-जिन स्थानों पर गये हैं उन-उन जगहों पर इन्फेक्शन लोड खत्म करने का भी काम किया जा रहा है। यूपी में तबलिकी जमात के कारण ही कोरोना पॉजीटिव की संख्या इतना बढ़ी है। 94 लोगो का टेस्ट पोजीटिव आया है। भारत सरकार से समन्वय स्थापित कर जमातियों की छान-बीन की जा रही है। मुख्यमंत्री जी ने बिना किसी भेद-भाव के सभी के उपचार के लिए निर्देश दिए है।धारा 188 के तहत उत्तर प्रदेश में अब तक 8286 लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। पब्लिक एड्रेस सिस्टम को और मजबूत किया गया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को शाम 5 बजे धर्म गुरुओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करेगे। शनिवार को मुख्यमंत्री ने स्वयं प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमों कुमारी मायावती से फोन कर के धन्यवाद किया। कोरोना महामारी के संक्रमण से जब देश दहशत में है तो मायावती ने अपनी पार्टी के विधायको से प्रदेश की जनता के मदद करने की बात कही थीं। उन्होंने स्वीकार किया कि कुछ जनपदों के कंट्रोल रूम की स्थित अच्छी नही मिली है, मुख्यमंत्री ने वहाँ की व्यवस्था जल्द सुनिश्चित करने के दिए आदेश दिये हैं। आपदा के कारण प्रदेश में किसी भी कर्मचारी चाहे वह नियमित हो अथवा संविदाकर्मी किसी के वेतन रोका नहीं जायेगा।अवस्थी ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन के बाद प्रदेश के जेलों में बंद 11000 कैदियों में से 10 हज़ार कैदी अब तक पैरोल पर छोड़े जा चुके है। प्रदेश में 41391 वाहनों के माध्यम से फल सब्जी का वितरण किया जा रहा है। राज्य में अब तक 92681 मीट्रिक टन फ़ूड का वितरण किया गया है। राशन कार्ड के माध्यम से 3 दिन के अंदर अब तक 40 लाख 31000 लोगों को आवश्यक सामग्री वितरण किया गया है। श्रमिकों को 1000 रुपये बांटने का काम जारी है उन्होंने कृषि कार्य में लगे प्रदेश के किसानों से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखने की अपील किया है।लॉकडाउन तोड़ने वालों पर लगातार कार्यवाही की जा रही है। सड़क पर निकलने वालों के वाहन चालान, सीज किये जाने की कार्यवाही जारी है। कालाबाज़ारी के खिलाफ अभियान चलाते हुए अब तक 100 से ज्यादा लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है।

Leave a Reply