लाॅकडाऊन में शिक्षकों ने आदर्श प्राथमिक विद्यालय चोपता की बदल दी तस्वीर

संतोष नेगी/ चमोली के विकासखंड नारायण बगड़ के राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय चोपता को इस साल विद्यालय को रूपांतरित के लिए चुना गया था लेकिन जब पूरे देश में कोरोना चल रहा है ऐसे में आदर्श मॉडल स्कूल में चोपता के शिक्षक विद्यालय को नया रूप देने में लगे हुए थे,
राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय चोपता के प्रभारी प्रधानाचार्य नरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा विद्यालय रूपांतरण के फलस्वरूप रूपांतरित विद्यालय से एक बालिका का इस बार भी प्रीति रावत का चयन हिम ज्योति फाउंडेशन देहरादून के लिए इस बार हो चुका है।

इस विद्यालय को रूपांतरित करने में अध्यक्ष यशवंत रावत , प्रधान चोपता, तुनेरा, बी डी सी सदस्य मुकेश कुमार मंदिर समिति के अध्यक्ष सिनवाल यहां एस एम सी सदस्यों और जागरूक अभिभावकों क्षेत्र की जनता और उच्च अधिकारियों जिला परियोजना अधिकारी नरेश कुमार हल्दीयानी ,खंड शिक्षा अधिकारी के एस टोलीया सभी उच्च अधिकारियों के दिशनिर्देशों एवं मार्गदर्शन से आदरणीय अध्यापकों जी०एस०नेगी , पी०एन०सती , अंजलि रतूड़ी समुदाय शिक्षिका मीनाक्षी रावत, भोजनमाता गीता देवी व सुशीला देवी, सहयोग से विद्यालय का रूपांतरण संभव हो पाया है। वर्तमान छात्र संख्या 54 हो चुकी है। और बढ़ने की संभावना है !


बताते चले कि विद्यालय ब्लॉक मुख्यालय से लगभग26 किमी की दूरी पर स्थित दुर्गम श्रेणीं का विद्यालय है जो 2016 में आदर्श विद्यालय में बदला है तब से छात्र छात्राएं विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर चुके है जो नवोदय विद्यालय पीपलकोटी, राजीव गांधी नवोदय विद्यालय ,गैरसैण, हिम ज्योति फाउंडेशन देहरादून के लिए भी निकलते रहे हैं


वहीं खंडशिक्षा अधिकारी एस टोलीया ने कहा विद्यालय को रूपांतरण के लिए जिलायोजना के साथ अन्य स्थानों से जो धनराशि प्राप्त हुई इससे विद्यालय की कायाकल्प किया गया विद्यालय के सभी शिक्षकों व अधिकारियों के सहयोग से विद्यालय इस मुकाम पर पहुंचा है इस विद्यालय से राजीव गांधी नवोदय विद्यालय व हिम ज्योति फाउंडेशन देहरादून भी निकले है शिक्षकों की कर्मठता से विद्यालय इस रूप में है

Leave a Reply