तंबौर सीएचसी में फिसड्डी साबित हो रही प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना !

सुविधा शुक्ल मिलेगा तब फीड होगा फार्म !

सुधांशु पुरी/अभिषेक श्रीवास्तव

सीतापुर । केंद्र और प्रदेश की सरकार भले ही स्वास्थ विभाग में गरीबों के उत्थान के लिए तरह तरह की योजनाएं संचालित कर दे लेकिन सीतापुर स्वास्थ महकमा सुधारने का नाम नही ले रहा।सीतापुर स्वास्थ विभाग की लीला भी अजब है। यहां अगर फायदा ना हुआ तो योजना सारी ठेंगे पर। ऐसा ही हाल है सीतापुर की तंबौर सीएचसी में प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का !

मामला जिले की तंबौर सीएचसी का है। जहां कर्मचारियों कम्प्यूटर ऑपरेटरों की वजह से गरीबों को इस योजना का लाभ नही मिल पा रहा है। यह योजना है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का। जहां लाभार्थी को प्रथम बच्चे पर तीन किस्तों में 5 हजार की धनराशि मिलती है। लेकिन तंबौर सीएचसी पर सूत्रों की माने तो कंप्यूटर आपरेटर और ब्लाक प्रोग्राम मैनेजर जिस लाभार्थी को लाभ दिलाना चाहते है उसी को लाभ मिलता है।जबकि हजारों की तादात में फार्म की फीडिंग नही हुई ना ही संगनियों को कोई भुगतान हुआ जबकि एक फार्म का 50 रुपया मिलना चाहिए था। लेकिन इस सीएचसी के एनएचएम के ब्लाक के कर्मचारियों की लापरवाही और कम्प्यूटर आपरेटर के तानाशाही रवैये से सभी परेशान है क्योंकि बीते मार्च से हजारों की तादात में फार्म नही फीड हुए। नाम ना बताने की शर्त पर एक आशा संगिनी ने बताया कि जो सुविधा शुल्क देगा सीएचसी पर उसी का फार्म फीड होगा। कई बार अधीक्षक से इसकी शिकायत की लेकिन वो कोई कार्यवाही नही करना चाहते। इसलिये सभी परेशान है।
वहीं इस मामले में जब एडिशनल सीएमओ पी के सिंह से बात की तो उन्होंने कहा कोई संगिनी लिखकर दे या आप हमें 1-2 लोगों के नाम बताए जिनका फार्म फीड नही हुआ हम कार्यवाही करेंगे।

Leave a Reply