चंदौली से महेन्द्रनाथ पांडे के चुनाव न लड़ने की चर्चा, इस युवा चेहरे को मिल सकता है टिकट

नई दिल्ली। NDA  ने आज बिहार में सीट पर नाम तय कर दिए हैं। बीजेपी बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने आज इन नामों का खुलासा किया। चौंकाने वाली बात है कि भागलपुर से शहनवाज हुसैन का नाम गायब है। खगडिया छोड़कर सभी नामों का खुलासा हो गया है। वहीं पटना साहिब से शत्रुघन सिन्हा का टिकट बीजेपी से कट गया है।

भारतीय जनता पार्टी ने अपने प्रत्याशियों के नामों की 3 सूची जारी कर दी है लेकिन सर्वाधिक सीटों वाले प्रदेश उत्तर प्रदेश से फिलहाल सिर्फ 26 सीटों पर प्रत्याशी तय किए गए हैं। शेष सभी सीटों पर अभी प्रत्याशियों के नामों पर भाजपा केन्द्रीय कार्यालय में मंथन जारी है। बीजेपी के उत्तर प्रदेश के 6 मौजूदा सांसदों का टिकट कट चुका है । कई नए नामों की टिकट लड़ने की संभावना है। कुछ नामों को छोड़कर उत्तर प्रदेश में लगभग सभी दिग्गज नामों के सीटों का फैसला कर दिया गया है। लेकिन चंदौली सीट पर महेन्द्र पांडे की सीट का फैसला फिलहाल नही हो पाया है। महेन्द्र नाथ पांडे की अस्वस्थ होने की वजह से किसी और प्रत्याशी को बीजेपी मैदान में उतार सकती है। इस सीट पर फिलहाल सबसे ज्यादा चर्चा युवा नेता बरुण कुमार पांडे के नाम की है।

बरुण कुमार पांडेय 15 सालों से बीजेपी के सदस्य के तौर पर पार्टी के लिए काम कर रहे हैं। गाजीपुर में जन्में बरुण कुमार पांडे ने छात्र राजनीति से अपने राजनैतिक जीवन की शुरुआत की है। वो फिलहाल भाजपा के केन्द्रीय कार्यालय में राष्ट्रीय सहसंयोजक मीडिया (प्रकल्प और विभाग) में हैं।बरुण केंद्रीय फिल्म सेंसर बोर्ड सदस्य,राष्ट्रीय सहसंयोजक नव बंगा,सेक्रेटरी K S सेवा समिति, भूतपूर्व राष्ट्रीय सदस्य व्यापार-प्रकोष्ठ भी रह चुके हैं।

एक दशक से ज्यादा अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम करने वाले बरुण पांडे गाजीपुर के युवाओं के बीच काफी चर्चित नाम है। चंदौली से उनके नाम की चर्चा होने से युवाओं मेंं काफी जोश है। हमने जब बरुण पांडे से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि फिलहाल वो बीजेपी के एक कर्मठ कार्यकर्ता के रुप में अपना फुल टाईम पार्टी को दे रहे हैं और अगर पार्टी उन पर भरोसा करके उनको टिकट देती है तो वो पार्टी की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे।

Leave a Reply