750 आईसीयू बेड देने का वादा किया गया था, वह आईसीयू बेड कहां हैं?- सौरभ भारद्वाज

नई दिल्ली, 19 नवंबर, 2020 आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली को केंद्र सरकार से अभी तक एक भी आईसीयू बेड नहीं मिले हैं, जबकि केंद्रीय गृहमंत्री के आश्वासन दिए करीब पांच दिन हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग की वेबसाइट से पता चला है कि केंद्र से जो 750 आईसीयू बेड मिलने वाले हैं, उनकी संख्या घटा कर 400 कर दी गई है। जबकि भाजपा के नेता इसका पोस्टर लगा कर और प्रेस कांफ्रेंस कर ढोल पीट रहे हैं। हम केंद्रीय गृहमंत्री से जानना चाहते हैं जिन डाॅक्टरों को एयर लिफ्ट करके लाया गया था, वे अभी तक दिल्ली में तो नहीं पहुंचे हैं, उन्हें किस अस्पताल में उतारा गया है। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा दिल्ली वालों के साथ ऐसे समय में इस तरह का मजाक कर रही है, जब सभी लोग एक साथ मिल कर दिल्ली की सेवा करने की भावना रखते हैं। मैं भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और केंद्रीय गृहमंत्री से पूछना चाहता हूं कि जो 750 आईसीयू बेड देने का वादा किया गया था, वह आईसीयू बेड कहां हैं?

पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि जब से कोरोना का संकट बढ़ा है, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी तमाम राजनीतिक दलों से इस संकट से लड़ने में सहायता की अपील कर रहे हैं। और इसी के तहत केंद्र सरकार की ओर से मिले आश्वासन के लिए मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ने अमित शाह जी का और केंद्र सरकार का धन्यवाद किया।

उन्होंने कहा कि मुझे बेहद ही दुख के साथ यह कहना पड़ रहा है कि जिस मदद का आश्वासन गृहमंत्री अमित शाह जी की ओर से बीते रविवार को किया गया था कि 24 घंटे के भीतर दिल्ली सरकार को 250 आईसीयू बेड मुहैया कराए जाएंगे और इसी प्रकार से प्रतिदिन 250 आईसीयू बेड दिल्ली सरकार को मुहैया कराए जाएंगे, कूल 750 आईसीयू बेड मुहैया कराने का आश्वासन दिया था। भाजपा के तमाम लोग ढोल पीट-पीट कर अपने आप को शाबाशी दे रहे थे कि अमित शाह जी ने दिल्ली सरकार के ऊपर और दिल्ली की जनता के ऊपर बहुत बड़ा एहसान कर दिया है। 5 दिन बीत चुके हैं, परंतु केंद्र सरकार की ओर से अभी तक दिल्ली सरकार को एक भी आईसीयू बेड की व्यवस्था नहीं कराई गई है। उन्होंने कहा कि यही नहीं, आज मैं स्वास्थ्य विभाग की अपडेट देख रहा था, तो जो 750 आईसीयू बेड मुहैया कराने की बात कही गई थी, वह भी घटाकर 400 कर दी गई है। अर्थात जो बेड दिल्ली सरकार को मिलने थे, वह आने से पहले ही कागजों में 350 आईसीयू बेड कम कर दिए गए हैं।

मीडिया के माध्यम से अमित शाह जी से अनुरोध करते हुए सौरभ भारद्वाज ने कहा कि आप खुद भी अभी बीमारी से उबर कर आए हैं, आप एक बीमार की व्यथा को भलीभांति समझते होंगे। आपने जो वादा किया था, वह दिल्ली के जो बीमार लोग हैं, उनसे वादा किया था। आप के लोगों ने पोस्टर तो दिल्ली के कोने कोने में छपवा दिए, परंतु अभी तक दिल्ली के अस्पतालों को एक भी आईसीयू बेड केंद्र सरकार की ओर से नहीं मिला है। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि जैसे ही मीटिंग समाप्त हुई, भाजपा के लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया कि डॉक्टर बाहर से एयरलिफ्ट कर लिए गए हैं। आज 5 दिन बीत चुके हैं, हम अमित शाह जी से जानना चाहते हैं कि 5 दिन पहले जो डॉक्टर एयरलिफ्ट किए गए थे, उनको दिल्ली में किस जगह उतारा गया है। इस महामारी के काल में भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के लोगों के साथ ऐसा गंदा और भद्दा मजाक कर रही है। मीडिया के माध्यम से सौरभ भारद्वाज ने गृहमंत्री श्री अमित शाह जी से अनुरोध किया, कि जल्द से जल्द अपना वादा पूरा करें और दिल्ली को वादे के मुताबिक 750 आईसीयू बेड मुहैया कराए जाएं।

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता जी के आधार पर एक ट्वीट किया गया है, जिसमें उन्होंने पूछा है कि दिल्ली सरकार कोई एक मोहल्ला क्लीनिक बता दे, जहां मुफ्त कोरोना के टेस्ट हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि मैंने उनको ट्विटर के माध्यम से जवाब दिया है, हालांकि दिल्ली में विभिन्न जगहों पर मोहल्ला क्लीनिकों में मुफ्त कोरोना टेस्ट हो रहे हैं। मैंने उन्हें मेरी ही विधानसभा के एक मोहल्ला क्लीनिक का पता बताया है। आदेश गुप्ता जी मुझे बताएं कि वह किस दिन आ रहे हैं। मैं खुद उनका स्वागत करने के लिए मोहल्ला क्लीनिक पर मौजूद रहूंगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को ऐसा लगता है कि इस प्रकार का झूठ जनता के बीच में फैला कर वह अपनी जिम्मेदारियों से बच जाएंगे। मैंने तो उनके प्रश्न का जवाब दे दिया, परंतु मैं आदेश गुप्ता जी से और पूरी भारतीय जनता पार्टी से पूछना चाहता हूं कि जो 750 आईसीयू बेड 5 दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देश के गृह मंत्री अमित शाह जी के द्वारा देने का वादा किया गया था, वह आईसीयू बेड कहां है?

Leave a Reply