3 टी के अभियान के फलस्वरूप यूपी में संक्रमण अन्य प्रदेशों की तुलना में कम

लखनऊ: 07 जून, 2021 अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ नवनीत सहगल ने बताया कि प्रदेश में संक्रमण तेजी से कम हो रहा है। मुख्यमंत्री जी नेतृत्व में प्रदेश में 3 टी के अन्तर्गत एग्रेसिव ट्रैक, टेस्ट, और ट्रीट तथा टेस्टिंग बढ़ाने, आंशिक कफ्र्यू तथा वैक्सीनेशन का अभियान चलाया जा रहा है। 3 टी के अंतर्गत पांचों तत्वों पर कार्य निरन्तर किया जा रहा है। जिसके फलस्वरूप प्रदेश में संक्रमण अन्य प्रदेशों की तुलना में कम हो रहा है। उन्होंने बताया कि 3 टी अभियान के अंतर्गत कोविड-19 के प्रारम्भ से सर्विलांस ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली जा रही है।

इस अभियान के तहत प्रदेश की 24 करोड़ जनता में से लगभग 18 करोड़ लोगों से सरकारी मशीनरी द्वारा उनका हाल-चाल जाना गया। उन्होंने बताया कि इसके साथ-साथ 05 मई, 2021 से ग्रामीण क्षेत्रों में एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा है। अगर एन्टीजन टेस्ट निगेटिव आ रहा है और लक्षण हैं तो उनका आरटीपीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है, इसके साथ-साथ उनको 10 लाख से अधिक मेडिकल किट भी बांटी गयी है। उन्होंने बताया 3 टी अभियान के अंतर्गत प्रदेश में कोविड-19 के टेस्ट की संख्या पूर्व में प्रतिदिन 70 से बढ़ाकर आज 3 से 3.50 लाख तक की जा रही है। कोविड-19 के टेस्टों की संख्या में निरन्तर बढ़ोत्तरी की जा रही है, ताकि संक्रमित व्यक्ति की पहचान की जा सके।


सहगल ने बताया कि प्रदेश में जिन जनपदों में कोविड के एक्टिव केसों की संख्या 600 से कम है उन जनपदों में आंशिक कोरोना कफ्र्यू हटाकर साप्ताहिक बंदी लागू की जा रही है। उन्होंने बताया कि अब तक 72 जनपदों आंशिक कोरोना कफ्र्यू हट गया है। अब सिर्फ 03 जनपद मेरठ, लखनऊ तथा गोरखपुर में ही आंशिक कोरोना कफ्र्यू लागू है। उन्होंने बताया कि 3 टी अभियान के अंतर्गत प्रदेश में कोविड टीकाकरण अभियान तेजी से चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत अब तक 02 करोड़ से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है, जिसमें 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग वाले 30 लाख लोगों का भी टीकाकरण किया गया है। माह जून में 01 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है।

अगले माह से 03 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण बढ़ाया जायेगा। 1.30 लाख काॅमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों का निःशुल्क टीकाकरण पंजीकरण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड वारियर्स के संबंध में मुख्यमंत्री जी द्वारा कहा गया है कि स्वास्थ्य कर्मी/पुलिस कर्मी/राज्य कर्मचारी जैसे कोविड वारियर्स की मृत्यु हुई है उनके परिजनों को नौकरी अथवा आर्थिक सहायता आदि कार्य 10 जून तक कर लिए जायें। प्रदेश में आॅक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए प्रदेश में 416 आॅक्सीजन प्लाण्ट बनाये जा रहे हैं, जिनमें से 72 प्लाण्ट चालू हो गये हैं।

News Reporter

Leave a Reply