यूपी में कोरोना काल में 52 विदेशी कम्पनियों ने दिया 45 हजार करोड़ रूपए के निवेश का प्रस्ताव

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश में नये उद्योगों की स्थापना पर सरकार तेजी से कार्य कर रही है। सरकार बैंकों के साथ समन्वय स्थापित करके नये उद्योगों की स्थापना करा रही है।
श्री सहगल ने बताया कि निवेश प्रोत्साहन के लिए इसके अतिरिक्त 22 विभागों में उद्योगों से सम्बंधित नीतियां बदली गयी हैं और उनमें संशोधन किया गया है।

जिससे अधिक से अधिक संख्या में प्रदेश में निवेश किये जा सकें। उन्होंने बताया कि नगर निगम लखनऊ द्वारा जो पब्लिक में बाॅन्ड जारी किये गये थे। वो बाॅन्ड ओवर सब्सक्राइब हुए थे और उनक बाॅन्ड पब्लिक लिस्टिंग दिनांक 02 दिसम्बर, 2020 मुम्बई स्टाॅक एक्सचेंज में होगा। मा0 मुख्यमंत्री जी स्वयं स्टाॅक एक्सचेंज की बेल बजाकर उसका लिस्टिंग का कार्य करायेंगे। प्रदेश में कोरोना काल में भी लगभग 52 विदेशी कम्पनियों 45 हजार करोड़ रूपए के निवेश का प्रस्ताव दिया है जिसपर कार्यवाही चल रही है। पूर्व में 4 लाख 68 हजार करोड़ रूपए के जो इन्वेस्टर समिट में जो निवेश आये थे, उनपर कार्यवाही चल रही है अथवा पूरी हो चुकी है।

प्रदेश में रोजगार के नये अवसर उपलब्ध कराने के लिए 6.48 लाख नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयांें को 19,772 करोड़ रूपये का ऋण दिया गया है। उन्होंने बताया कि नई एमएसएमई इकाईयों से लगभग 25 लाख रोजगार के अवसर सृजित हुए हैं। रोजगार के और अधिक अवसर पैदा हों विशेषकर छोटे और लघु उद्योगों के माध्यम से रोजगार के अवसर सृजित कर लोगों को नौकरी उपलब्ध करायी जा रही है।

Leave a Reply