मोदी पर नितीश ने आंखें तरेरी, क्या छोड़ देंगे मोदी का साथ, 7 मुद्दों पर हुई आर-पार
227

नितिन उपाध्याय/रवि..देश की 16वीं लोकसभा चुनाव 2019 को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों ने अपने अपने दांवपेंच चलाने शुरू कर दिए है।जहां राजनीतिक उठापटक में विपक्ष महागठबंधन के सहारे साल 2019 में होने वाले आम चुनाव में मोदी सरकार को धूल चटाने की तैयारी कर रहा है वहीं एनडीए में भी सीटों के बटवारे को लेकर खींचतान शुरू हो गयी है।एनडीए में सीटों के बटवारे को लेकर खींचतान सबसे ज्यादा JDU कर रही है।अब JDU मुखिया नितिश कुमार ने पीएम मोदी पर आंखें तरेरी है।नितीश कुमार चाहते है कि उनकी पार्टी को कम से कम 25 सीटों पर चुनाव लड़े और राज्य की सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आए।

इन दिनों बीजेपी अपने सभी सहभागियों को साधने में जुटी हुई है लेकिन JDU प्रमुख उनकी चिंता बढ़ा रहे है। सीटों को लेकर ही नहीं बल्कि कई ऐसे मुद्दे भी है जो बीजेपी की चिंता बढ़ा रहे है।बीते दिनों कई मुद्दों को लेकर नितीश कुमार मोदी सरकार से आर पार कर चुके है।

नितिश कुमार ने मोदी सरकार को गंगा सफाई, नोटबंदी, विशेष राज्य का दर्जा, फसल बीमा औऱ सड़क आदि मुद्दों पर आंखें तरेरी है। बता दें कि नोटबंदी का नितिश कुमार ने समर्थन किया था जबकि नितिश उस वक्त विपक्षी थे।लेकिन अब नितिश कुमार ने नोटबंदी से आने वाले परिणामों को लेकर मोदी सरकार को घेरा है जबकि नितिश एनडीए में सहयोगी है।

इतना ही नहीं नितिश कुमार ने मोदी सरकार को कई सारे मुद्दों को लेकर घेरा है।नितिश ने बिहार राज्य को एक विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए आंध्र प्रदेश की तर्ज पर आगे बढ़े और नीति आयोग की मीटिंग में उन्होंने इस बात को रखा।इसके बाद नितिश कुमार गंगा सफाई पर मोदी सरकार से पूछते है कि गंगा सफाई का क्या हुआ यह गंगा सफाई तो आपके ड्रीम प्रोजेक्ट में थी।इसके बाद नितिश कुमार ने नमामि गंगे परियोजना को फेल करार दिया है।इसके अलावा कई और अहम मुद्दों पर नितिश कुमार मोदी को घेरते हुए नजर आए।लेकिन अब नितिश कुमार सीटों के बटवारे को लेकर बीजेपी पर दबाव बना रही है।देखने वाली बात यह होगी की क्या NDA और JDU इस गठबंधन को साल 2019 में चला पाते है या नहीं।

News Reporter

Leave a Reply