किसानों की महापंचायत में वीएम सिंह ने बीजेपी सरकार पर लगाये कई आरोप
338
पीलीभीत उप्र 04 सितम्बर ।एसआरएम इंटर कालेज में किसानों की महापंचायत में किसानों की समस्याओं को लेकर आंदोलन किये जाने की रणनीति तय की गई। इस मौके पर पश्चिमी उत्तरप्रदेश के सशक्त किसान नेता वी एम सिंह ने बीजेपी सरकार पर जी भर कर आरोप लगाये। उसे किसान विरोधी करार दिया।
बीसलपुर के एसआरएम इंटर कालेज में किसान मजदूर संगठन के मुखिया वीएम सिंह ने किसानों की महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘चुनाव के समय नेता बड़े-बड़े वादे तो करते हैं, लेकिन चुनाव जीतने के बाद किसानों की ओर कोई ध्यान नहीं देता है’। ‘भाजपा सरकार में भी किसानों की लगातार अनदेखी की जा रही है। किसानों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है। ऐसी ही तमाम सरकारें आई। जिनमे भी किसानों को उनका हक नहीं दिया’।
‘किसान कड़ी मेहनत कर अपनी फसल को उगाता जरूर, लेकिन किसानों को उसकी उपज का वाजिव मूल्य नहीं मिल पाता। जिससे किसानों को आर्थिक संकट से जूझना पड़ता है’। किसान मजदूर संगठन किसानों की लड़ाई लड़ रहा है। किसानों का हित किसान मजदूर संगठन में ही है।
 किसानों का अभी तक बकाया गन्ने का भुगतान नहीं किया गया। इज़के विरुद्ध दो याचिका दायिर की है। चीनी मिल ब्याज सहित जल्द से जल्द गन्ने का भुगतान करेंगी। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्याओं के लियूए अब आंदोलन तेज किया जाएगा। किसानों को सड़कों पर बड़ी संख्या में आना पड़ेगा। उन्होंने किसानों का आह्वन्ह किया सभी किसान संघर्ष के कई तैयार रहें। केंद्र स्टार ओर बैठक कर शीघ्र ही तिथि निर्धारित की जाएगी। उसकी सार्वजनिक घोषणा भी जल्दी करेंगे। आरपार के इस बड़े संघर्ष में किसानों की ज्वलंत समस्याओं की मांग उठाई जाएगी।
महा पंचायत में पूर्व जिलाध्यक्ष मो0 साबिर उर्फ गुल्लू पहलवान,कुलविंदर सिंह, जसविंदर सिंह, प्यारे लाल, राममोहन, राभरोसे, जगदीश प्रसाद, देव स्वरूप, गंगा प्रकाश, ओमपाल, वीरपाल, मनोज कुमार, गुडडू, शनि, महिपाल, पोशाकी लाल सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply