परिवार को किशोरी ने खुद दी बेहोशी की दवा, थोड़ी देर बाद हुआ गैंगरेप

उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म और गैंगरेप के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. आह में एक और मामला सामने आया है. यूपी के इटावा जिले के एक गांव में परिवार को बेहोशकर तीन दोस्तों ने किशोरी से गैंगरेप किया. बेहोशी से जब मां जागी तो लड़की को घर में ना पाकर सन्न रह गई. रातभर गायब रही. युवती जब बदहवास हालत में वापस घर पहुंची तो मामले का खुलासा हुआ. युवती के पिता की तहरीर पर पुलिस ने दोस्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है.

पुलिस के अनुसार युवती 10वीं की छात्रा है. सोमवार रात जब वह अपने परिवार के साथ सो रही थी तब पड़ोसी गांव का एक युवक अपने दो साथियों की मदद से उसे गांव के बाहर ले गया जहां सभी ने उसके साथ गैंगरेप किया. रात करीब दो बजे मां बेहोशी से उठी तो बेटी को न देख घबरा गई. सूचना पाकर पहुंची पुलिस के साथ परिवार ने किशोरी की तलाश शुरू की. इसी दौरान वह बदहवास हालत में घर पहुंच गई.

डरी-सहमी किशोरी ने बताया कि उसके साथ तीन युवकों ने दुष्कर्म किया है, उसने पुलिस को उनके नाम भी बताए. पिता की तहरीर पर पुलिस ने नसीरपुर बोझा के रहने वाले रवि प्रकाश उर्फ सोनू दुबे व पुनीत और मुड़ैया कला के रहने वाले अरुण तिवारी के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है. थानाध्यक्ष ने बताया कि किशोरी लड़कों को पहले से जानती थी. उन्ही लड़कों ने नींद की दवा किशोरी के पास भेजी थी जिसे युवती ने अपने परिवार के लोगों को खिला दी. जिससे पूरा परिवार बेहाश हो गया था. परिजनों का आरोप है युवक उसे डरा-धमकाकर ले गए थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है.

News Reporter

Leave a Reply