UP में पोर्न वेबसाइट्स सर्च की तो हो जाएगी जेल, पुलिस ने की ये व्यवस्था

अगर आपको पोर्न (Porn) देखने की लत है और पूरे दिन अश्लील वेबसाइट (Porn XXX Website) सर्च करते हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि यूपी पुलिस की महिला हेल्पलाइन (UP Police woman helpline) अब ऐसे लोगों पर नजर रखेगी जो इंटरनेट पर ब्लू फिल्म (Blue Film) खोजते हैं. ऐसा करने पर 1090 को सीधा मैसेज जाएगा. इसके अलावा यदि कोई युवती को अश्लील मैसेज या फोटो भेजेगा तो 1090 उसका आईपी एड्रेस ट्रैक कर लेगा और उसी समय उसे चेतावनी भरा भेजा जाएगा. शुक्रवार को यह जानकारी एडीजी 1090 नीरा रावत (ADG 1090 Neera Rawat) ने दी.

पोर्न सर्च करते ही मिल जाएगा आपका डेटा


एडीजी नीरा रावत ने बताया कि इंटरनेट के एनालिटिक्स को स्टडी करने के लिए oomuph नाम की एक कंपनी से रखा गया है. वो डेटा के माध्यम इंटरनेट क्या सर्च किया जा रहा है इस पर नजर रखेगी. अगर कोई व्यक्ति इंटरनेट पर अश्लीलता देखते है तो उसके संकेत एनालिटिक्स टीम को मिल जाएंगे. टीम उसके बारे में 1090 टीम को बता देगी. 1090 की टीम उस व्यक्ति को ऐसी सामग्री से सचेत रहने के लिए जागरूकता के मेसेज भेजेगी. ऐसा करने से अपराध की शुरुआत पर ही रोक लगाई जा सकेगी.

दायरे में होंगे सभी इंटरनेट यूजर्स

एडीजी नीरा रावत ने बताया कि इस पूरी योजना का नाम (हमारी सुरक्षा) दिया गया है. इस योजना के तहत प्रदेश के सभी इंटरनेट यूजर तक पहुंचने का टारगेट रखा गया है. इस योजना को चरणवार ढंग से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा. आने वाले समय में 1090 सोशल मीडिया के हर प्लेटफॉर्म पर मौजूद रहेगा और अलग-अलग सोशल मीडिया के यूजरों तक इसकी पहुंच होगी. सोशल मीडिया पर प्रसारित किए जाने वाले मेसेज और संदेश भी तैयार किए गए हैं.

1090 ने तैयार किया शोहदों के लिए चक्रव्यूह

एडीजी ने बताया कि अगर राह चलते आपने किसी लड़की, महिला के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की तो सड़क पर लगे पोस्टर आपको उस अपराध में निहित सजा की जानकारी देकर चेतावनी देंगे. जी हां, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा महिला सुरक्षा के लिए शुरू की गई मिशन शक्ति योजना को वूमेन पावर लाइन (1090) और शक्तिशाली बनाएगा. इसके लिए महिला और बाल सुरक्षा के लिए 1090 ने चक्रव्यूह तैयार कर लिया. वह शोहदों को हर तरफ से घेरकर पकड़ा जाएगा.

उन्होंने बताया कि पायलेट प्रोजेक्ट के तहत सूबे के छह जनपदों में यह व्यवस्था शुरू कराई गई थी. जिसमें काफी अच्छा रिस्पांस आया है. अब सूबे के सभी जनपदों में यह व्यवस्था होगी. सूबे में करीब 11.6 करोड़ इंटरनेट यूजर्स हैं, जिनमे 16 से 64 साल के यूजर के 67 प्रतिशत, ग्रामीण इलको में 69 प्रतिशत हैं. मुख्य रूप से वह सभी लोग 1090 के टारगेट में हैं. महिलाओं की फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्र्राम आइडी पर सुरक्षा से संबंधित मैसेज और युवकों को चेतावनी भरा मैसेज भेजा जाएगा.

शोहदों के लिए चौराहों पर लगेंगे पोस्टर

आइपीएस राघवेंद्र द्विवेदी ने बताया कि राजधानी समेत पूरे प्रदेश के चौराहों और सार्वजनिक स्थानों अथवा ब्लैक स्पॉट (जहां छेड़छाड़ से संबंधित मामले अधिक होते हों) वहां पर स्लोगन के साथ शोहदों पर शिकंजा कसने के लिए पोस्टर लगाए जाएंगे. जिससे शोहदे अगर किसी के छेड़छाड़ करें तो उनके अंदर उस अपराध के लिए भय पैदा हो.

शोहदों में डर पैदा करने के लिए यह मैसेज

  • जिसको सुधार न पाई मास्टर जी की छड़ी, उसके लिए 1090 की हथकड़ी.
  • छिछोरों के न चलेंगे हथकंडे जब 1090 चलाएगी उन पर डंडे.

महिलाओं को जाएंगे यह मैसेज

  • गुंडे बदमाशों से पीछा छुड़ाना है तो 1090 पर कॉल लगना है.
  • विपत्ति में सहारा है, 1090 हमारा है.
  • डरने की क्या बात 10 है तुम्हारे साथ.

Leave a Reply