गोंडा-वृक्षारोपण महाअभियान के तहत जिले में 41 लाख 06 हजार 03 सौ पौधेे रोपित

वृक्षारोपण महाअभियान के तहत जिले में 41 लाख 06 हजार 03 सौ पौधेे रोपित किए गए। ’’आओ सब मिलकर पेड़ लगाएं’’ के सकल्प के साथ जिले के नोडल अधिकारी प्रदेश के कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा द्वारा तहसील करनैलगंज अन्तर्गत सकरौरा घाट, विकासखण्ड हलधरमऊ के ग्राम बटौरा बख्तावरतथा ब्लाक करनैलगंज के ग्राम पचमरी में पौध रोपण किया।

जिले के नोडल अधिकारी आलोक सिन्हा द्वारा तहसील करनैलगंज के ग्राम सकरौराघाट में स्व.सन्तोष कुमार शुक्ला, क्षेत्रीय वन अधिकारी स्मृति वनौषधि वाटिका में पौध रोपण कर अभियान का शुभारम्भ किया गया। बते चले कि क्षेत्रीय वनाधिकारी स्व0 संतोष कुमार शुक्ला की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण के कारण हो गई थी। वृक्षारोपण जन आंदोलन अभियान 2021 के अन्तर्गत सकरौरा ग्राम सभा में श्री राम जानकी मन्दिर की भूमि पर 3.0 हेक्टेयर क्षेत्र में 1875 औषधीय पौधों का रोपण किया गया है। इस स्थल को कोविड-19 की वजह से दिवंगत हुए क्षेत्रीय वन अधिकारी स्व. सन्तोष कुमार शुक्ला की स्मृति में उनके नाम से वनौषधि वाटिका का नाम दिया गया है। यहाँ पर सुरक्षा हेतु 700 मीटर की परिधि में आरसीसी खम्भों पर कांटेदार तार से बाढ किया गया है।

इसी प्रकार बटौरा बख्तावर व पचमरी ग्राम में भी कोरोना संक्रमण से मृतक हुए लोगों की स्मृति में नोडल अधिकारी द्वारा डीएम व सीडीओ के साथ पौधे रोपित किए गए।

इस अवसर पर नोडल अधिकारी ने कहा कि वृक्षारोपण अभियान में पर्यावरण, वन विभाग एवं 26 अन्य राजकीय विभागों द्वारा स्वयं व जन सहभागिता के माध्यम से वृक्षारोपण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस बार का वृक्षारोपण अभियान कुपोषण, जैव विविधता व जैविक पद्धति एवं इम्युनिटी बूस्टर प्रजातियों के पौधों के रोपण पर विशेष रूप से केन्द्रित है। कुपोषण की समस्या को दूर करने के लिए सहजन सहित 25 से अधिक फलदार प्रजातियों का रोपण किया जा रहा है जिसमें सहजन, सागौन, शीशम, खैर, अर्जुन एवं अन्य फलदार व चारा प्रजातियों के पौधे शामिल हैं। उन्होंने यह भी कहा कि लक्षित 49 लाख पौधों की आपूर्ति विभागों को निःशुल्क कराने की व्यवस्था वन विभाग द्वारा की गई है।

News Reporter

Leave a Reply