Recent News
सुप्रीम कोर्ट में लखीमपुर मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 26 अक्टूबर तय की गई है

लखीमपुर  खीरी हिंसा मामले में दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार पर अपनी नाराजगी जाहिर की है।  बता दें सर्वोच्च अदालत ने इस मामले की स्टेटस रिपोर्ट दायर करने में हुई देरी को लेकर कहा कि कल रात एक बजे तक हम रिपोर्ट मिलने का इंतजार करते रहे और वहीं  आपको एक दिन पहले स्टेटस रिपोर्ट जमा करना था।

बता दें कि तीन अक्टूबर को यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई  हिंसा में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर मांग की गई है कि इस मामले की जांच अदालत की निगरानी में हो। इसपर सुनवाई CJI एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की पीठ कर रही है।  

ऐसे में यूपी सरकार की तरफ से पेश हुए वकील हरीश साल्वे ने जब बुधवार को मामले की स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने की जानकारी कोर्ट को दी तो सीजेआई ने नाराजगी जताते हुए कहा कि सुनवाई से पहले दाखिल की गई रिपोर्ट, हमें अभी मिली है। आपको इसे एक दिन पहले जमा करना था। कल रात एक बजे तक हम रिपोर्ट का इंतजार करते रहे। इस दौरान साल्वे की तरफ से मांग की गई कि सुनवाई को शुक्रवार तक के लिए टाल दिया जाए। जिसपर अदालत ने मना कर दिया।

आपको बताते चलें की सुनवाई के दौरान यूपी सरकार ने SC को बताया कि लखीमपुर मामले में न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा 44 गवाहों में से चार के बयान दर्ज किए गए हैं। इसपर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार से पूछा कि अभी तक सिर्फ 4 चश्मदीदों के ही बयान क्यों दर्ज हुए हैं? सरकार ने कहा, मामले में बयान दर्ज किया जा रहा था, उस दौरान कोर्ट की दशहरा की छुट्टी हो गई थी।

बता दें कि राज्य सरकार ने जांच से जुड़ी और जानकारी बताने के लिए अदालत से समय मांगा। जिसपर अदालत अब 26 अक्टूबर को अगली सुनवाई करेगी। अगली तारीख देने के साथ ही कोर्ट ने गवाहों को सुरक्षा देने का भी निर्देश दिया है। कोर्ट ने कहा कि जो कुछ भी कोर्ट में फ़ाइल करना है सुनवाई के दिन से पहले फ़ाइल हो।

News Reporter
पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना करियर बनाने वाली निकिता सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से ताल्लुक रखती हैं पिछले कुछ सालों से परिवार के साथ रांची में रह रहीं हैं और अब देश की राजधानी दिल्ली में अपनी सेवा दे रहीं हैं। नेशनल ब्रॉडकास्टिंग अकादमी से पत्रकारिता में स्नातक करने के बाद निकिता ने काफी समय तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के न्यूज़ पोर्टल्स में काम किया। उन्होंने अपने कैरियर में रिपोर्टिंग से लेकर एंकरिंग के साथ-साथ वॉइस ओवर में भी तजुर्बा हासिल किया। वर्त्तमान में नमामि भारत वेब चैनल में कार्यरत हैं। बदलती देश कि राजनीती, प्रशासन और अर्थव्यवस्था में निकिता की विशेष रुचि रही है इसीलिए पत्रकारिता की शुरुआत से ही आम जन मानस को प्रभावित करने वाली खबरों पर पैनी नज़र रखती आ रही हैं। बेबाकी से लिखने के साथ-साथ खाने पीने का अच्छा शौक है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ में योगदान जारी है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!