नटरंग शरद रंगोत्सव का आयोजन
114

देश की राजधानी दिल्ली के क्नॉट प्लेस के सेंट्रल पार्क में 3 दिवसीय नटरंग शरद रंगोत्सव सम्पन हुआ

संवाददाता-राजधानी दिल्ली। इस रंगोत्सव के दूसरे दिन अखिल भारतीय कविसम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि संस्कृति मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने शिरकत की। इस मौके पर संस्कृति मंत्री डॉ. महेश ने कहा कि साहित्यिक संस्था ‘काव्यम द पोइट्स एसोसिएशन’ साहित्य, संस्कृति और कला को समृद्ध करने में अपना बड़ा योगदान कर रही है। वहीं कार्यक्रम के संयोजक अंतरराष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त कवि गजेन्द्र सोलंकी ने कहा कि कला को प्रकृति के साथ जोड़कर अपनी संस्कृति को और समृद्ध-गौरवशाली बनया जा सकता है। गजेन्द्र सोलंकी ने कहा कि अखिल ब्रम्हांड में हमारे सौर मंडल की सदस्या केवल मां पृथ्वी ही है जहां अभी तक ज्ञात करोड़ों वर्षों की विभिन्न प्रकार के जीवन का प्रवाह बना हुआ है।

कवि सम्मेलन में डॉ. हरिओम पंवार, बलबीर सिंह करुण, डॉ. कुंवर बेचैन, डॉ. विष्णु सक्सेना, डॉ. सीता सागर, डॉ. सुरेश अवस्थी, डॉ. सरिता शर्मा, डॉ. ध्रुवेन्द्र भदौरिया, बृजेश दिवेदी, डॉ. कैलाश मंडेला, जगवीर राठी, मनोज कुमार मनोज ने काव्यपाठ किया। कार्यक्रम का सफल संचालन गजेन्द्र सोलंकी ने किया।

कार्यक्रम का उद्घटान प्रसिद्धि समाज सेवी प्रवीण गोयल, संस्कार भारती के संस्थापक पद्मश्री बाबा योगेन्द्र जी, दिल्ली के पूर्व महापौर महेश चन्द्र शर्मा, समाजसेवी रोशन लाल गोरखपुरिया, समाजसेवी राम कैलाश महतो ने किया। शरद रंगोत्सव के तीसरे दिन यानी 25-10-2018 को संगीत नृत्य नाटिका प्रकृति दर्शन, मुंशी प्रेमचन्द्र का नाटक ‘बड़े भाई साहब’ का मंचन किया गया।

Leave a Reply