लोकसभा चुनाव के लिए जिले में 16 जोनल मजिस्ट्रेट एवं 98 सैक्टर मजिस्टेट तैनात 
संतोषसिंह नेगी / चमोली/  लोक सभा चुनाव को शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के साथ संपन्न कराने हेतु नियुक्त सभी जोनल एवं सैक्टर मजिस्ट्रेटों को राइका गोपेश्वर में पहला प्रशिक्षण दिया गया। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया, अपर जिला निर्वाचन अधिकारी हंसादत्त पांडे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एमएस बर्निया की उपस्थिति में मास्टर ट्रेनरों ने सभी जोनल मजिस्ट्रेट व सैक्टर मजिस्ट्रेट को निर्वाचन प्रक्रिया की पाॅवर प्वाइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से पूरी जानकारी दी। लोक सभा चुनाव को संपन्न कराने के लिए जिले में 16 जोनल मजिस्ट्रेट एवं 98 सैक्टर मजिस्टेट तैनात किये गये है।
जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सभी जोनल व सैक्टर मजिस्ट्रेट ईवीएम व वीवीपैट की कार्यप्रणाली के बारे में अच्छी तरह से जान लें, ताकि मतदान के दिन कार्य करने में कोई कठिनाई न हो। उन्होंने कहा कि बूथों पर 25 मार्च तक मूलभूत व्यवस्थाओं सुनिश्चित करने के लिए संबधित विभागों को पूर्व में निर्देशित किया गया है। उन्होंने सभी मजिस्ट्रेटों को 26 से 28 मार्च तक अपने क्षेत्र के बूथों पर पुनः मूलभूत व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण करने, दिब्यांग मतदाताओं को बूथ तक लाने की व्यवस्था, संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने तथा सभी बूथों पर मतदाता जागरूकता गु्रप को एक्टिवेट करने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी मजिस्ट्रेटों को अनिवार्य रूप से अपने बूथ पर जाकर मतदान हेतु व्यवस्थाऐं सुनिश्चित करते हुए 28 मार्च तक पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। कहा कि किसी भी बूथ पर मतदान के दौरान कोई भी त्रुटि हुई, तो पीठासीन अधिकारी के साथ-साथ संबधित क्षेत्र के जोनल व सैक्टर मजिस्ट्रेट भी समान रूप से उत्तरदायी होंगे। इसलिए जो भी दायित्व उन्हें सौंपे गये है वे सब उनका पूरी लगन के साथ अनुपालन करें और दूसरों को भी कडाई से अनुपालन कराए। उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेटों के वाहनों की जीपीएस से ट्रैकिंग की जायेगी, इसके लिए सभी मजिस्ट्रेट अपने एन्ड्राइड मोबाईल का आईएमईआई नम्बर आज ही उपलब्ध करायें। जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी मजिस्ट्रेटों को मतदान करने की शपथ भी दिलायी।
सीडीओ/अपर जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी मजिस्ट्रेटों को तटस्थ होकर पारदर्शिता के साथ निर्वाचन कार्यो को त्रुटिरहित पूरा करने के निर्देश दिये। कहा कि हर बार निर्वाचन की प्रक्रिया में कुछ न कुछ बदलाव होते है, इसलिए प्रशिक्षण को गम्भीरता से लेते हुए अपनी शंकाओं का यही पर समाधान करें तथा आयोग के निर्देशों का पूरी तरह अनुपालन सुनिश्चित करे। डाकमत पत्र के नोडल अधिकारी नरेन्द्र यादव ने ईडीसी, पोस्टल बैलेट तथा आर्मी सर्विस वोटर के लिए ईटीपीबीएस के बारे में जानकारी दी। बताया कि 02-गढवाल में कुल 36672 आर्मी सर्विस वोटर है, जिसमें से 9714 सर्विस वोटर चमोली जिले से है, जिन्हें ईटीपीबीएस से मतदान की सुविधा दी जायेगी।
मास्टर ट्रेनर आत्म प्रकाश डिमरी, गिरधर जोशी, अरविन्द भट्ट, मनोज तिवारी, सुशील बहुगुणा, योगश धसमाना ने सभी मजिस्ट्रेटों को ईवीएम और वीवीपैट को संचालित करने सहित सभी बारीकियों की तकनीकी एवं व्यावहारिक प्रशिक्षण दिया। मजिस्ट्रेटों को मतदान केन्द्र की व्यवस्थाओं, मतदान सामग्री, जीपीएस व वायरलैस सेट, पोलिंग पार्टियों की रवानगी व सुरक्षित वापसी, ईडीसी से मतदान करने तथा उनके दायित्वों व कत्र्तब्यों के बारे में जानकारी दी गई। मतदान से पूर्व निर्धारित समय पर माॅकपोल का कार्य पूरा करने तथा निर्धारित समय से मतदान शुरू कराने को कहा गया। पोलिंग पार्टियों से निरन्तर समन्वय बनाये रखने तथा मतदान समाप्ति के बाद ईवीएम व वीवीपैट सहित सभी मतदान सामग्री को मतगणना स्थल जीजीआईसी गोपेश्वर में निर्धारित काॅउटर पर सुरक्षित जमा कराने को कहा गया।
लोक सभा चुनाव के दौरान बद्रीनाथ विधान सभा के 21, थराली के 18 तथा कर्णप्रयाग के 17 मतदेय स्थलों सहित कुल 56 मतदेय स्थलों से वेबकास्टिंग की जायेगी। बद्रीनाथ विधान सभा के 18, थराली के 8 तथा कर्णप्रयाग के 06 मतदेय स्थलों को क्रिटिकल श्रेणी में रखा गया है। जिले में बद्रीनाथ विधानसभा क्षेत्र के माणा, नीति, गमशाली, कैलाशपुर, झेलम, कोषा, जुम्मा, द्रोणागिरी एवं मलारी सहित कुल 9 माइग्रेट मतदेय स्थल है। इन मतदेय स्थलों के मतदाताओं के लिए उनके वर्तमान निवास स्थान पर ही मतदान की सुविधा की गई है।
इस दौरान सहायक रिटर्निग आफिसर बुशरा अंसारी, प्रशिक्षण के प्रभारी अधिकारी नेरश कुमार हल्दयानी, स्वीप कार्यक्रम के जिला समन्वयक डा0 एमएस सजवाण, डाकमत पत्र के नोडल अधिकारी नरेन्द्र यादव आदि सहित सभी जोनल मजिस्ट्रेट व सैक्टर मजिस्ट्रेट उपस्थित थे।

Leave a Reply