दिल्ली में लाॅकडाउन नहीं, लेकिन संक्रमण को रोकने के लिए  लगाएंगे प्रतिबंध-केजरीवाल

केजरीवाल सरकार ने कोरोना को काबू करने के लिए कमर कस ली है और इससे निपटने के लिए नवबंर 2020 जैसी तैयारियां की जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की तैयारियों का जायजा लेने के लिए आज एलएनजेपी का दौरा किया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि नवंबर में सभी ने मिलकर दिल्ली में कोरोनो को काबू किया था। दिल्ली सरकार, सभी अस्पताल और डॉक्टर मिलकर उसी स्तर की दोबारा तैयारी कर रहे हैं। एक तरफ, हमें वैक्सीनेशन तेज करने की जरूरत है और दूसरी तरफ कोरोना को फैलने से रोकने के साथ अस्पताल प्रबंधन को भी दुरुस्त करने की जरूरत है। हम अस्पतालों की सारी जरूरतें पूरी करेंगे और दिल्ली के लोगों को किसी भी तरह की तकलीफ नहीं होने देंगे।

सीएम ने कहा कि दिल्ली में फिलहाल लाॅकडाउन नहीं लगेगा, लेकिन कुछ प्रतिबंध लगाए जाएंगे। अगर केंद्र सरकार सभी प्रतिबंध हटाते हुए पर्याप्त वैक्सीन देती है, तो हम 2-3 महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा देंगे, जिससे कोरोना की गंभीरता खत्म हो जाएगी।


मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 मरीजों के लिए की गई तैयारियों का जायजा लेने के लिए आज एलएनजेपी अस्पताल का दौरा किया। इस दौरान एलएनजेपी अस्पताल प्रबंधन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद रहे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने अस्पताल प्रबंधन से कोविड-19 तैयारियों का विस्तृत जानकारी ली और अस्पताल में कोविड मरीजों को बेहतर इलाज देने के साथ कोरोना संक्रमण के फैलाव को नियंत्रित करने के लिए हर संभव प्रयास करने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि दिल्ली सरकार द्वारा दिए गए सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। अस्पताल में आने वाले मरीजों के इलाज का उचित प्रबंध किया गया है, जिससे किसी को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। 


मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने एलएनजेपी अस्पताल का दौरा करने के उपरांत मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि देशभर में करोना के केस बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली के अंदर भी उसी तेजी के साथ कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। एक तरफ, हम लोगों को वैक्सीनेशन तेज करने की जरूरत है और दूसरी तरफ कोरोना को फैलने से रोकने की जरूरत है। साथ ही अस्पताल प्रबंधन को भी दुरुस्त करने की जरूरत है। दिल्ली के अंदर यह चैथी लहर आई है। इससे पहले, नवंबर 2020 में तीसरी लहर आई थी। तीसरी लहर इसके बाद दिल्ली में कोरोना के मामले काफी ज्यादा कम हो गए थे और एक समय सिस्टम के अंदर थोड़ा ढीलापन तो आ ही गया था। मैं पिछले कुछ दिनों से कोरोना मामले की समीक्षा कर रहा हूं और आज एलएनजेपी अस्पताल का दौरा कर सारा सिस्टम देखा हूं। अब हम वापस, जो नंबर में हमारी तैयारी थी, उसी के अनुसार अपनी तैयारियां पुनः करने जा रहे हैं।

नवंबर में दिल्ली के अंदर सभी डॉक्टर और नर्स ने मिलकर के बहुत अच्छे कोरोना के निपटा था। दिल्ली सरकार, सारे अस्पताल और डॉक्टर मिलकर उसी स्तर की तैयारी को वापस कर रहे हैं। आज हमने एलएनजेपी अस्पताल का मुआयना किया है। अस्पताल को जिन चीजों की जरूरत है, उसे एलएनजेपी के एमएस और डॉक्टरों ने बताया। उन सारी चीजों को हम पूरा करेंगे और दिल्ली के लोगों को किसी भी तरह की तकलीफ नहीं होने देंगे। 


सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भगवान न करे कि कोई बीमार हो, लेकिन अगर कोई बीमार होता है और उसे अस्पताल की जरूरत होती है, तो हमारी पूरी कोशिश होगी कि उसे अच्छे से अच्छे अस्पताल में व्यवस्था मिल सके। सीएम ने वैक्सीनेशन को लेकर कहा कि मैं अपनी दिल्ली की व्यवस्था बता सकता हूं, पूरे देश के बारे में नहीं बता सकता है। वैक्सीनेशन के संबंध में मैंने प्रधानमंत्री को पत्र भी लिखा है। अगर हमें समुचित संख्या में वैक्सीनेशन की डोज उपलब्ध करा दी जाए, उम्र की बाध्यता को हटा दी जाए और बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन सेंटर खोलने की इजाजत दे दी जाए, तो हम 2 से 3 महीने के अंदर पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं। अगर सभी को वैक्सीन लगा दी जाएगी, तो कोरोना की जो गंभीरता है, वह खत्म हो जाएगी। फिर हम कोरोना की बीमारी से बच सकेंगे। 


सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज की तारीख में हमारे पास 7 से 10 दिन की वैक्सीन की डोज उपलब्ध है। केंद्र सरकार ने वैक्सीन लगाने की बहुत कठिन शर्ते बनाई हुई है। हम 45 वर्ष से कम उम्र के लोगों को वैक्सीन लगा नहीं सकते हैं। मुझे लगता है कि इन सभी शर्तों को इस समय हमें हटाने की जरूरत है। हमें बहुत बड़े स्तर के ऊपर वैक्सीनेशन अभियान चलाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अभी हमारे पास वेंटिलेटर आदि पर्याप्त है। उन्होंने कहा कि हम कोरोना के फैलाव को नियंत्रित करने को लेकर दिल्ली के विशेषज्ञों से भी संपर्क में हैं और केंद्रीय विशेषज्ञों के भी संपर्क में है।हम अपनी तैयारियों में किसी भी तरह की कमी नहीं छोड़ेंगे। 


सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर लाॅकडाउन की संभावना को नकारते हुए कहा कि दिल्ली में अभी लाॅकडाउन नहीं लगाया जाएगा, लेकिन कुछ प्रतिबंधों की जरूरत है, वह प्रतिबंध लगाए जाएंगे। हम एक-दो दिन में उन प्रतिबंधों की घोषणा कर देंगे। सीएम ने कोविड-19 की तैयारियों की जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली में कोविड सेंटर भी बनाए जा रहे हैं और कुछ शुरू भी हो गए है। एलएनजेपी के सामने भी पहले एक कोविड सेंटर बनाया गया था, वह बहुत जल्द चालू होने वाला है। एलएनजेपी में भीड़ को कम करने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हम अस्पताल में ओपीडी को कम कर रहे हैं। एलएनजेपी में कुल 2000 बेड हैं।

पिछली लहर में हमने सभी 2000 बेड के साथ पूरे एलएनजेपी अस्पताल को कोविड के लिए डेडिकेट कर दिया था। इस बार हम अभी फिलहाल 1500 बेड को कोविड घोषित किए हैं और 500 बेड अभी भी गैर कोविड-19 मरीजों के लिए हैं। जैसे-जैसे जरूरत पड़ेगी, हम कोविड बेड को बढ़ाते जाएंगे। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि सरकार द्वारा दिल्ली में अभी लाॅकडाउन की कोई भी तैयारी नहीं है।

News Reporter

Leave a Reply