भूस्खलन की जहद में गोदली इन्टर कालेज

सन्तोषसिंह नेगी /   चमोली के पोखरी ब्लाक में  राजकीय कालेज के समीप भूस्खलन की स्थिति बनी हुई है। पिछले पांच वर्षो से भूस्खलन हो रहा है, लेकिन प्रशासन और जनप्रतिनिधि का ध्यान इस ओर नही गया। वहीं गोदली गांव के लोगो का कहना है कि सरकार और स्थानीय प्रशासन को इस भूस्खलन की जानकारी दियी गयी थी। लेकिन सरकार की अनदेखी से ऐसा लगता है कि सरकार किसी बड़ी अनहोनी की प्रतीक्षा कर रही है।

भूस्खलन का कारण

कलसिर गांव  से गुडम, नैल,नौली तक पी एम जी एस वाई के तहत संडक की खुदाई  कर विभाग पांच वर्ष से सड़क की सुध न लेने से भूस्खलन की स्थिति पैदा हो गयी है। सड़क की कटिंग   राइ.का. गोदली तक खुदी है। जबकि आगे सड़क का कार्य पांच सालों से बंद पड़ा है।

अब स्थिति ये  है कि सडक जगह – जगह से भू स्खलन की चपेट में आ कर बंद है। पिछले वर्ष से स्कूल के ठीक नीचे की स्थिति बहुत भयानक है। कभी अधिक वर्षा के कारण स्कूल व बच्चों के लिए जहां ये सड़क सुविधा के लिए होनी थी, वहीं आज वह  खतरा बनी हुई है।

राजकीय इन्टर कालेज दुर्गम होने के कारण प्रशासन की नजरों में कही खो सा गया है। स्कूल में दस ग्राम पंचायत के छात्र छात्रायें पढाई करने आते हैं। पैदल रास्ता होने के कारण बच्चों के साथ बडा हादसा हो सकता है। कई बार स्कूल के द्वारा अभिभावक संघ को भी जानकारी दी गयी कि अगर कोई छात्र भारी बारिश में भूस्खलन की चपेट मे आयेगा तो आखिर इसकी  जिम्मेदारी कौन लेगा?

वही गोदली गांव के  दलीबसिंह, नन्दनसिंह,पकजसिंह, चैतसिह आदि लोगो का कहना है कि अगर प्रशासन द्वारा भूस्खलन रोकने का प्रयास नहीं किया गया तो गोदली गांव भी जहद में आ जाएगा।

Leave a Reply