“कही तो हँसी हो” पुस्तक का हुआ विमोचन, आय के 50 प्रतिशत से कैंसर रोगियों की होगी मदद
1155

नई दिल्ली। पुस्तक … कही तो हँसी हो …जितेन्द्र मणि डीसीपी द्वारा लिखी गई कविताओं के संग्रह जो उनकी स्वर्गीय धर्म पत्नी किरन मणि त्रिपाठी को समर्पित हैं का लोकार्पण दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर  मे 5 अगस्त को शाम 5 बजे किया गया। पुस्तक का विमोचन दीपक मिश्रा आईपीएस एसडीजी सीआर पीऐफ,प्रोफेसर पी बी शर्मा वी सी एमिटी यूनिवर्सिटी जीजीआर और प्रेसिडेंट ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी एसोसिएशन,भारत विश्वविद्यालय के संघ के अध्यक्ष चांसलर प्रोफेसर पी आर त्रिवेदी, श्री बी पी मिश्रा सेवा निवृत्त आईआरएस अधिकारी,श्री अजीत दुबे अध्यक्ष विश्व भोजपुरी सम्मेलनश्री राम महेश मिश्रा निर्देशक विश्व जगृति मंच के द्वारा किया  गया।

इस समारोह में जितेन्द्रमणि  ने अपनी भावपूर्ण कविताओ का पाठ किया और कहा कि वह इस पुस्तक से होने वाली आय का 50 प्रतिशत एेंम्स अस्पताल के गरीब कैंसर रोगी  बच्चों पर खर्च होंगा। गौरतलब है कि अपनी स्वर्गीय पत्नी से बेहद स्नेह रखने वाले दिल्ली पुलिस के डीसीपी जितेन्द्रमणि त्रिपाठी की पत्नी का निधन कैंसर जैसी बीमारी से ही हो गया था। जिसके बाद कैंसर रोगियों की मदद के लिए उनका यह प्रयास अनुकरणीय है।

इस कार्य क्रम में सेवा निवृत्त आईएफएस अधिकारी श्री अमरेन्द्र खटुआ, विशेष आयुक्त  श्री प्रवीण रंजन, संयुक्त आयुक्त दक्षिण श्री देवेश श्रीवास्तव , संयुक्त आयुक्त एके सिंह अपर आयुक्त श्री ऐ के  सिंगला डीसीपी ऐस के तिवारी और तमाम वरिष्ठ पुलिस कार्यकर्ताओं और सेवानिवृत्त कई अधिकरिंओ इस समारोह में उपस्थित थे। कार्यक्रम को जयति ओझा द्वारा संचालित  किया गया।

कही तो हँसी हो

पुस्तक को अनामिका प्रकाशन इलाहाबाद  द्वारा प्रकाशित किया गया हैं और इसका  मूल्य 250 रूपया रखा गया है यह पुस्तक अमेजन पर  ऑनलाइन उपलब्ध हैं और जल्द ही फ्लिपकार्ट पर भी  उपलब्ध होगी।

Leave a Reply